अलीगढ़, जागरण संवाददाता। यूपी बोर्ड ने कक्षा नौवीं से 12वीं तक के विद्यार्थियों की छमाही परीक्षा और प्रैक्टिकल के अंकों को बोर्ड की वेबसाइट पर अपलोड करने के आदेश जारी किए हैं। तीन दिसंबर तक अंक अपलोड करने की प्रक्रिया पूरी करनी है। यह निर्णय इसलिए किया गया है कि अगर भविष्य में किसी विषम परिस्थिति के चलते परीक्षा न करा पाने वाले हालात बनें तो विद्यार्थियों का परिणाम इन्हीं अंकों के आधार पर घोषित किया जा सके।

डीआइओएस डा. धर्मेंद्र कुमार शर्मा ने बताया कि कक्षा नौ व 10वीं के संस्थागत-व्यक्तिगत विद्यार्थियों की छमाही की लिखित परीक्षा के अंक अपलोड किए जाएंगे। 11वीं व 12वीं के विद्यार्थियों की छमाही व प्रयोगात्मक परीक्षाओं दाेनों के प्राप्ताकं वेबसाइट पर अपलोड किए जाएंगे। तीन दिसंबर तक प्राप्तांक अपलोड करने की प्रक्रिया प्रधानाचार्यों को हरहाल में पूरी करनी है। लापरवाही बरतने वालाें के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए संबंधित प्रधानाचार्य ही जिम्मेदार होंगे।

अगले साल दो टर्म में परीक्षा

सीबीएसई की तर्ज पर यूपी बोर्ड भी नई शिक्षा नीति के तहत दो टर्म में परीक्षाएं कराएगा। पहले टर्म में शुरुआत के आधे सिलेबस से प्रश्न पूछे जाएंगे। दूसरे टर्म में बाकी के आधे सिलेबस से प्रश्नपत्र तैयार होगा। इससे विद्यार्थियों को तैयारी करने में काफी राहत मिल जाएगी।

भौतिक सत्यापन के बाद डिग्री कालेजों में बढ़ेंगी सीटें

अलीगढ़ : डा. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय आगरा से संबद्ध डिग्री कालेजों में प्रवेश लेने के इच्छुक विद्यार्थियों को प्रवेश पाने का एक और मौका मिलने की राह खुल रही है। डिग्री कालेजों से सीट बढ़ोतरी के लिए प्रस्ताव विश्वविद्यालय को भेजा गया था। इस पर विचार करते हुए विश्वविद्यालय प्रशासन ने कालेजों का भौतिक सत्यापन कराने का खाका तैयार किया है। यह जानकारी विवि की जनसंपर्क अधिकारी डा. सुनीता गुप्ता ने दी। डा. सुनीता ने बताया कि जिले में तीन एडेड डिग्री कालेज हैं। कालेजों की ओर से कला, वाणिज्य व विज्ञान पाठ्यक्रम में स्नातक प्रथम वर्ष में प्रवेश के लिए सीट बढ़ाने का प्रस्ताव भेजा गया है। इस पर अमल करते हुए कुलपति की ओर से कालेजों का भौतक सत्यापन कराने की योजना बनाई गई है। इसके लिए समिति भी गठित कर दी गई है। समिति की आख्या के आधार पर सीट बढ़ाने का फैसला किया जाएगा। इससे प्रवेश से वंचित विद्यार्थियों को प्रवेश पाने का मौका मिलेगा।