जागरण संवाददाता, अलीगढ़: बन्नादेवी के सारसौल चौराहे के पास मंगलवार की देर शाम गंभीर हादसा होने से टल गया। अनियंत्रित रोडवेज बस ने चौराहे के पास होर्डिग बोर्ड व ट्रैफिक पुलिस कर्मियों की खड़ी दो बाइकों को रौंदते हुए नाले में जा घुसी।

सारसौल चौराहा स्थित रोडवेज वर्कशॉप से शाम करीब आठ बजे अलीगढ़-मथुरा रूट पर चलने वाली बुद्ध बिहार डिपो की रोडवेज बस संख्या यूपी 81 एफ- 8736 को चालक रोहताश कुमार गांधीपार्क बस स्टैंड लेकर जा रहा था, जैसे ही उसने चौराहे के पास बस को मोड़ा बस अनियंत्रित हो गई और वहां लगे होर्डिग बोर्ड को तोड़ने के साथ ही ट्रैफिक पुलिस के बूथ के पास खड़ी सिपाही जितेंद्र कुमार व होमगार्ड सोमवीर की बाइकों को रौंदते हुए नाले में जा घुसी। चालक बस को मौके पर ही छोड़कर भाग गया। आशंका जताई जा रही है कि बस चालक उस वक्त नशे की हालत में था। संयोग से जिस वक्त यह हादसा हुआ मोहनलाल गौतम चौराहे पर भीड़ नहीं थी, अन्यथा शाम के वक्त यहां यात्रियों की अच्छी -खासी भीड़ मौजूद रहती है। क्रेन की मदद से बस को नाले से बाहर निकलवाया और फिर थाने ले गई। इंस्पेक्टर ने बताया कि हादसे में जिन दो पुलिस कर्मियों की बाइक क्षतिग्रस्त हुई है उनकी ओर से अभी कोई तहरीर नहीं मिली है। बुद्ध बिहार डिपो के एआरएम योगेंद्र प्रताप ने बताया कि पता करेंगे रूट पर गाड़ी ले जाने के दौरान गाड़ी व चालक का फिटनेस प्रमाण पत्र किसने जारी किया था? चालक के नशे में होने के भी जांच की जा रही है, दोषी पाए जाने पर कार्रवाई की जायेगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस