अलीगढ़, जागरण संवाददाता। Aligarh news : गभाना तहसील क्षेत्र में पिछले चार दिनों से लगातार हो रही बरसात ने लोगों की काफी परेशानियां बढ़ा दी हैं। बरसात के चलते जहां किसानों के खेतों में खड़ी धान, मक्का, बाजरा की फसल बिछ गई है वहीं कई स्थानों पर मकान गिर पड़े हैं, जिसमें एक वृद्ध की मलबे में दबकर मौत हो गई है।

शुक्रवार की भोर में गिरी छत : थाना क्षेत्र के गांव के 70 वर्षीय ज्ञान चंद घर पर कमरे में सो रहे थे, जबकि अन्य स्वजन दूसरे कामरे में सो रहे थे। शुक्रवार तड़के करीब 4 बजे बरसात के चलते ज्ञान चंद जिस कमरे में सो रहे थे उसकी छत अचानक से भर भराकर गिर पड़ी। आवाज सुनकर स्वजन व आस पड़ोस के लोग मौके पर एकत्रित हो गए। ग्रामीणों ने मलबे में दबे ज्ञानचंद को बाहर निकाला, लेकिन तब तक उनकी मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। हादसे के बाद स्वजन का रो-रोकर बुरा हाल हो गया।

कई जगहों पर गिरी मकान की छत : ज्ञानचंद चार बच्चों के पिता थे। वही कस्बा में आंबेडकर चौक पर नेत्रवती पत्नी खूबचरन के घर की व पोथा में उदयवीर सिंह के मकान की छत गिर पड़ी। गनीमत रही कि हादसे में कोई जनहानि नही हुई। सुमेरपुर गांव में उमेश कुमार के घर पर गुरुवार रात्रि में बिजली गिर पड़ी। जिससे उनके घर के विधुत उपकरण फुंक गए वहीं घर की दीवारों में दरार पड़ गई।

अमरोली बरौली मार्ग पर गांव सिया के समीप सड़क धंस गयी। गनीमत रही कि उस वक्‍त वहां कोई नहीं था नहीं तो कोई अनहोनी हो सकती थी।

जलाली गंगीरी रोड पर औसाफली ढोला वाले पुल से बहरामपुर उकरना तक बन रहे बाईपास रोड पर तेज बारिश से पानी के बहाव के कारण गुरुवार की रात ग्राम पंचायत शाहजहांपुर ताजपुर के निकट सड़क बीच में से कट गयी। जिससे राहगीरों का आवागमन बंद हो गया।अब लोग नगला ऊँचे गांव के अंदर होकर निकल रहे हैं।

Edited By: Anil Kushwaha