हाथरस, जागरण संवाददाता। जिला पंचायत की बैठक बुधवार को शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हो गई। बैठक में करीब 30 करोड़ के प्रस्तावों पर मुहर लगी। विरोधी खेमे के सदस्य सादाबाद में जयंत चौधरी की सभा में व्यस्त रहने के कारण बिना किसी हंगामे की बैठक की कार्यवाही पूरी हुई।

पिछली दो बैठकों में रालोद के जिला पंचायत सदस्‍य ने जताया था विरोध

जिला पंचायत की पिछली दो बैठकों में रालोद से जिला पंचायत सदस्य प्रदीप चौधरी गुड्डू, ईशान चौधरी समेत अन्य सदस्य ने काफी विरोध जताया था। 9 सितंबर को हुई बैठक की कार्यवाही गलत बताते हुए विरोधी खेमे के सदस्यों ने मीटिंग हाल में ही धरना शुरू कर दिया था। शाम तक धरने के साथ हंगामा चला था। अधिकारियों ने आश्वासन के बाद धरना समाप्त कराया गया था।

30 करोड़ के प्रस्‍ताव स्‍वीकार

जिला पंचायत की तीसरी बैठक बुधवार दोपहर 12 बजे से जिला पंचायत अध्यक्ष सीमा उपाध्याय की अध्यक्षता में शुरू हुई। इसमें कुल 24 में से बहुमत से अधिक जिला पंचायत सदस्य और पदेन सदस्य मौजूद रहे। अपर मुख्य अधिकारी (एएमए) संतोष कुमार त्रिपाठी ने बैठक के प्रस्तावों को पढ़कर सुनाया। बैठक में वित्तीय वर्ष 2020-21 और वर्ष 2021-22 की अनुपूरक कार्ययोजना पर चर्चा की गई। एएमए ने बताया कि 15वें केंद्रीय वित्त, पंचम राज्य वित्त की धनराशि से करीब 30 करोड़ रुपये के प्रस्ताव स्वीकार किए गए। सर्वसम्मति से प्रस्तावों पर मुहर लग गई है। उन्होंने बताया कि बैठक में 12 जुलाई और 9 सितंबर को हुईं पिछली बैठकों की कार्यवाही पर चर्चा हुई। जनसूचना पोर्टल, शासन के निर्देशो और प्राप्त प्रस्तावों पर विचार किया गया।

सदस्यों को सौंपे सीएम के बधाई पत्र

निर्वाचित जिला पंचायत सदस्यों को मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ की ओर से बधाई पत्र भी सौंपा गया। जिला पंचायत अध्यक्ष और सीडीओ ने सदस्यों को बधाई पत्र सौंपे। पत्र में जिला पंचायत की कार्यप्रणाली को प्रभावी, पारदर्शी और जनता के प्रति जवाबदेह बनाने की अपील की गई। बैठक में ब्लाक प्रमुख मुरसान रामेश्वर उपाध्याय, ब्लाक प्रमुख हाथरस पूनम पांडे, ब्लाक प्रमुख हसायन धमेंद्र सिंह, सीएमओ, डीआइओएस समेत अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद रहे।

Edited By: Anil Kushwaha