जासं, अलीगढ़ : कोविड की संभावित तीसरी लहर को रोकने के लिए सरकार टीकाकरण अभियान को गति देने में लगी है। महाभियान चलाकर एक दिन में 70-80 हजार तक टीके लगाए जा रहे हैं। मंगलवार को नौ हजार 580 लोगों को टीके लगाए गए। जनपद में कोविड का टीका करीब 17 लाख लोगों तक पहुंच चुका है। विशेषज्ञों की मानें तो यहां कोरोना की रफ्तार थम जाने की वजह ये भी है, क्योंकि दूसरे जनपदों व राज्यों में लगातार नए मरीज निकल रहे हैं।

जल्द अंतिम लाभार्थी तक पहुंचेगा टीका

जिले में 18 वर्ष आयु से अधिक करीब 27 लाख लाभार्थियों तक टीका पहुंचाने का लक्ष्य है। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग कवायद में जुटा है। युवा ही नहीं, महिलाएं व बुजुर्ग भी टीकाकरण को लेकर आगे आ रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग उनके घर के पास ही शिविर लगाकर टीकाकरण करने में जुटा है। इसके अच्छे नतीजे भी निकल रहे हैं। यदि इसी रफ्तार से टीकाकरण होता रहा तो डेढ़ से दो माह में अंतिम लाभार्थी तक कम से कम एक टीका जरूर पहुंच जाएगा।

कोरोना पर अंकुश, कम हुई भ्रांतियां

सीएमओ डा. आनंद उपाध्याय ने बताया कि जिले में दूसरी लहर के दौरान कोरोना ने काफी कोहराम मचाया। मौत का मंजर देख हर कोई सहम गया। राहत की बात ये है कि जनपद में अब संक्रमण नहीं। इसकी वजह, यहां हो रहा टीकाकरण भी है। संक्रमित मरीज सामने न आने से साफ है कि कहीं न कहीं टीकाकरण ने भी असर दिखाया है। हर कोई टीकाकरण को लेकर उत्सुक है। लोगों ने भले ही मास्क उतार दिया हो, लेकिन टीका लगवाने के लिए केंद्रों पर जाकर घंटों लाइन में लग रहे हैं। सीएमओ ने बताया कि जिले में अब तक जिन लोगों के मन में कोविड-19 के टीके को लेकर भ्रांतियां थीं, उसे दूर करने के निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं।

Edited By: Jagran