हाथरस, जेएनएन : सदर कोतवाली स्थित एक कालोनी में रहने वाली शिक्षा विभाग में तैनात बाबू की पत्नी व शिक्षिका ने एक दूसरे पर गम्भीर आरोप लगाते हुए कोतवाली में शिकायत की थी। रविवार को सीओ सिटी  व सदर पुलिस के साथ मामले की जांच करने के लिए पहुंची।

यह है मामला 

शिक्षा विभाग में तैनात एक बाबू का अपनी पत्नी से कोर्ट में विवाद चल रहा है। बाबू की पत्नी कानपुर स्थित अपने मायके में दोनों बच्चों के साथ रहती है। शुक्रवार दोपहर को बाबू की पत्नी हाथरस अपने बच्चो के साथ आई और डीएम प्रवीण कुमार लक्षकार से घर दिलाने के लिए प्रार्थना पत्र दिया। कोतवाली सदर आकर शिकायती पत्र बाबू की पत्नी ने पुलिस को दिया। आरोप था कि कॉलोनी में जो घर है वो उसकी मां के नाम पर है। लेकिन उसके घर की चाबी पति द्वारा नहीं दी जा रही। तथा पति किसी दूसरी महिला के संपर्क में है। जिस वजह से उसने उसके साथ पूर्व में कई बार मारपीट की।  

घर खुलवाने की लगाई गुहार

शिक्षा विभाग के एक बाबू का अपनी पत्नी से कोर्ट में मुकदमा चल रहा है। विवाद के बाद से ही बाबू की पत्नी अपने दो बच्चों के साथ मायके में रह रही है। सारे विवाद की जड़ कर्मचारी का एक शिक्षिका के संपर्क में आना बताया जा रहा है। शुक्रवार को ही महिला शिक्षिका ने तोड़फोड़ किए जाने का आरोप बाबू की पत्नी पर लगाया। इस मामले की जांच पड़ताल सीओ सिटी रूचि गुप्ता को सौंपी गई। रविवार को सीओ सिटी कोतवाली सदर पुलिस को साथ लेकर कॉलोनी पहुंची। जहां बाबू तथा उनकी मां से पूछताछ की। इसके साथ ही महिला शिक्षिका के घर जाकर सीओ सिटी ने पूछताछ की। इस दौरान तमाम लोग कॉलोनी के एकत्रित हो गए और उन्होंने पुलिस को उस दिन की घटना के बारे में जानकारी दी। सीओ सिटी का कहना है कि दोनों पक्षों के यहां जाकर जांच पड़ताल की गई है,जल्द ही कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस