अलीगढ़ [जेएनएन]: लॉकडाउन में आम आदमी को अपने जीवन में तमाम समझौते करने पड़ रहे हैं। बात जब मेडिकल इमरजेंसी की आती है तो समझौता करना भी मुश्किल हो जाता है। ऐसे में यूपी 112 पीआरवी सेवा मददगार साबित हो रही है।

एक ट्वीट पर दिल्ली से हार्ट पेशेंट तक पहुंची दवा

इगलास के गांव नवलपुर-मऊरानी के दिनेश शर्मा ने गुरुवार को यूपी 112 को ट्वीट कर मदद मांगी। बताया कि वे हार्ट पेशेंट हैं और दिल्ली के जीबी पंत हॉस्पिटल से इलाज चल रहा है। गोकुलपुरी में रहने वाली बहन कल्पना ने उनकी दवा ले रखी है, दवा उन तक आ नहीं रही है। एडीजी 112 असीम अरुण ने ट्वीट मिलते ही टीम को सक्रिय कर दिया। दिल्ली के नार्थ ईस्ट डीसीपी वेदप्रकाश सूर्या से संपर्क कर गाजियाबाद बॉर्डर से पीआरवी भेजकर दवा मंगाई, जिसे गैस सिलेंडर लेकर अलीगढ़ आ रहे ट्रक चालक जयपाल की मदद से यूपी पीआरवी 0742 तक पहुंचाया गया। पीआरवी ने किसान दिनेश शर्मा तक दवा पहुंचाई दैनिक जागरण से बातचीत में दिनेश शर्मा ने सहयोग के लिए यूपी पुलिस को दुआ संग धन्यवाद दिया।

50 किलोमीटर दूर आकर पहुंचाई दवा

थाना अकराबाद के एक गांव निवासी एचआइवी ग्रसित (एड्स पीडि़त) मरीज ने दवा खत्म होने पर जीवन को खतरा बताते हुए यूपी 112 से मदद मांगी। करीब 50 किलोमीटर का सफर तय कर यूपी 112 पीआरवी ने जेएन मेडिकल कॉलेज आकर दवा ली फिर पीडि़त को उपलब्ध कराई।

आगरा से आई दवा

जवां क्षेत्र के अमरौली निवासी सुबोध कुमार ने पिता के दिमागी रूप से बीमार होने व आगरा से दवा लाने को मदद मांगी। यूपी 112 ने आगरा से दवा लाकर पीडि़त को सारसौल चौराहे पर उपलब्ध करा दी।

विश्वास जीतने का प्रयास

एसपी ट्रैफिक अजीजुल हक का कहना है कि यूपी 112 लोगों की मदद कर उनका विश्वास जीतने का प्रयास कर रही है। लोग पुलिस के साथ सीधे जुड़ें और अपनी समस्याएं बताएं जिससे उनका जल्द समाधान कराया जा सके।

Posted By: Sandeep Saxena

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस