अलीगढ़, जागरण संवाददाता। क्वार्सी थाना क्षेत्र के नगला मल्लाह निवासी एक वाल्मीकि युवक की घर बुलाकर गला दबाकर हत्या के मामले में पुलिस को कुछ सुराग हाथ लगे हैं। जिनके आधार पर पुलिस हत्यारों तक पहुंचने में जुटी हुई है। स्वजन ने इस मामले में तीन लोगों खिलाफ लिखित में शिकायत दी है। पुलिस ने एक युवक को हिरासत में भी लिया है।

आर गार्डन के पीछे जंगल में मिला था शव

क्वार्सी क्षेत्र के नगला मल्लाह निवासी 26 वर्षीय विनोद कुमार वाल्मीकि जानवरों (सूकर) का कारोबार करता था। शनिवार शाम को बाइक लेकर घर से निकला था, लेकिन रात तक वापस नहीं लौटा। रविवार सुबह लोगों ने धौर्रा माफी इलाके में आर गार्डन के पीछे जंगल में शव पड़ा देखा। कुछ दूरी पर एक बाइक खड़ी थी। स्वजन ने शव की शिनाख्त विनोद के रूप में की। पुलिस ने उस समय शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया लेकिन लोगों का गुस्सा बढ़ता गया। दोपहर में बढ़ी संख्या में वाल्मीकि समाज के लोग क्वार्सी थाने पहुंचे गए। महिलाएं भी थीं। भीड़ को देखते हुए सीओ बन्ना देवी मोहसिन खान, सीओ अतरौली शिव प्रताप सिंह पीएसी के साथ थाने पहुंच गए। कुछ देर बाद कांग्रेस नेता श्यौराज जीवन व समाज के अन्य नेता भी थाने आ गए। काफी देर तक पुलिस के साथ वार्ता हुई।

जीवन गढ़ के लोगों पर आरोप

स्वजन ने आरोप लगाया कि विनोद को जीवन गढ़ के लोग बुलाकर ले गए थे। इसके बाद पुलिस ने लिखित में तहरीर मांगी। विनोद की पत्नी की ओर से जीवनगढ़ के आसिफ अली उर्फ जव्वार, नौशाद और इकबाल उर्फ सोनू के खिलाफ तहरीर दी। इसमें आरोप लगाया है कि मेरे घर पर आसिफ अपने उक्त साथियों के साथ आया था। मेरे पति को ये लोग अपने साथ ले गए। मैंने इसका विरोध भी किया था। रात को पति घर नहीं लौटे। रविवार सुबह उनका शव मिलतने की सूचना मिली। पति के पास जानवर बेचने के 20 हजार रुपये थे, वो भी नहीं मिले। आरोप लगाया कि उक्त लोगों ने ही उसके पति की हत्या की है। एक दिन पहले भी पति को इन लोगों ने धमकी दी थी। कांग्रेस नेता व अन्य ने लाेगों को समझाया इसके बाद सभी लोग थाने से गए। रात आठ बजे के बाद पुलिस की मौजूदगी में युवक के शव का दाहसंस्कार हुआ। इनका कहना है एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि स्वजन की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस जांच में कुछ अहम सुराग मिले हैं। जल्द ही घटना का पर्दाफाश किया जाएगा।

Edited By: Anil Kushwaha