अलीगढ़, जेएनएन। रेलवे स्टेशन पर अब यात्रियों को कोच गाइडेंस के साथ ही ट्रेनों की सटीक सूचना मिलेगी। इसके लिए रेलवे की ओर से पूछताछ केंद्र पर कोच गाइडेंस सिस्टम को मशीन लगाकर सर्वर से जोड़ा गया है। यहां कंप्यूटर स्क्रीन पर कमांड देते ही अनाउंसमेंट, कोच गाइडेंस और ट्रेनों की जानकारी डिजिटल बोर्ड पर नजर आएगी। ''ए'' ग्रेड अलीगढ़ रेलवे स्टेशन पर सात प्लेटफार्म हैं। यहां रोजाना पांच हजार से अधिक यात्रियों का आगमन-प्रस्थान होता है।

अलीगढ़ में 250 से अधिक ट्रेनें गुजरतीं हैं

 स्टेशन पर 52 एक्सप्रेस ट्रेनों के ठहराव के साथ ही 250 से अधिक ट्रेनें यहां से गुजरती हैं। सभी प्लेटफार्म पर लंबे समय से कोच इंडीकेटर, ट्रेन गाइडेंस डिजिटल बोर्ड खराब पड़े थे। जिससे यात्रियों को आने वाली ट्रेन की कोच की सही जानकारी नहीं हो पाती थी। यात्रियों को निर्धारित बोगियों में बैठने के लिए ट्रेन आने पर भागम-भाग की स्थिति का सामना करना पड़ता था, ऐसे में कई बार यात्री निर्धारित बोगी में नहीं चढ़ पाते थे। कोच इंडिकेटर नहीं होने के कारण सबसे ज्यादा परेशानी वृद्ध यात्रियों को होती थी। सांसद सतीश गौतम के साथ ही जेडयूआरसीसी के सदस्य संजय पंड़ित ने प्रयागराज मंडल के उच्चाधिकारियों को अवगत कराया था। जिसके बाद अब प्लेटफार्म नंबर सात को छोड़कर शेष छह प्लेटफार्म पर नए कोच इंडिकेटर लगाने का काम किया जा रहा है। पूछताछ केंद्र पर कोच गाइडेंस सिस्टम में मशीन को इंस्टाल कर इसे सर्वर से जोड़ा गया है। जिससे प्लेटफार्म पर मौजूद यात्रियों को सफर से पहले ट्रेनों के आने की सटीक जानकारी मिल सकेगी। 

 

कोच इंडिकेटर व डिजिटल बोर्ड लगे 

स्टेशन अधीक्षक डीके गौतम ने बताया कि स्टेशन के सातों प्लेटफार्म पर 26 -26 कोच इंडिकेटर लगा दिए गए हैं। इन प्लेटफार्म के लिए कुल 104 कोच इंडिकेटर, सात-सात कोच गाइडेंस बोर्ड, दो ट्रेन मानीटरिंग डिजिटल बोर्ड इंस्टाल कर दिए गए हैं। इन्हें कोच गाइडेंस मशीन से जोड़ दिया गया है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021