अलीगढ़, जेएनएन : शासन से लेकर प्रशासन तक की लाख कोशिशों के बाद भी गांवों में बनीं गोशालाओं की स्थिति बद से बदतर देखी जा सकती है। शासन की तरफ से गोशालाओं पर लाखों रूपये खर्च करने के बाद भी सुधार नहीं हो पा रहा है।

नहीं हो रही गोवंशों की देखभाल 

ऐसा ही मामला नगलिया खुर्द की गोशाला का सामने आया है जहां की गोशाला देख रेख के अभाव में गोवंशों के लिए कब्रगाह से कम साबित नहीं हो रहीं हैं। आरोप है कि यहां गोवंशों की देख भाल करने के लिए कोई भी व्यक्ति मौजूद नहीं है, जिसके चलते गोवंश आए दिन दम तोड रहें है।

गंदगी देख भड़के कार्यकर्ता 

जानकारी मिलने पर विश्व हिन्दू परिषद बजरंग दल के कार्य कर्ता ने पहुंच कर गोशाला का जायजा लिया, जहां उन्‍हें चारों तरफ गदंगी के ढेर लगे मिले, साथ ही चारे व पानी के बर्तन खाली मिले। मौके पर गोशाला की देख भाल करने वाला कोई व्यक्ति तक नहीं मिला । प्रधान के बारे में पूछा गया तो वहां उसका बेटा आया, जिसको चेतावनी दी गई अगर गोशाला की स्थिति में सुधार नहीं आया तो उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया जायेगा। वहीं कार्यकर्ताओं ने गोवंशों के लिए चारे व पानी की व्यवस्था की एवं बीमार गोवंशों का पशु चिकित्सक बुलवा कर इलाज करवाया।

यह लोग रहे उपस्‍थित

इस दौरान जिला मीड़िया प्रभारी पुष्पेन्द्र कुमार बघेल,दिनेश राजपूत, विपिन कुमार, अजय लोधी, राजेश चौहान, मनोज कुमार, राजेश कुमार, हरीश कुमार, रोहित कुमार, राहुल कुमार, अजय बघेल, मोहित कुमार, पंकज कुमार आदि कार्यकर्ता मौजूद रहें।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप