अलीगढ़, जागरण संवाददाता। रेलवे स्टेशन पर बुधवार को अधिकारियों का अमला देख यात्री सकपका गए। हर कोई तरह-तरह के कयास लगाने लगा। इधर-उधर से जानकारी की तो पता चला कि ये अमला नगर निगम के अधिकारियों का है। साथ में पार्षद भी हैं, जो पालीथिन और प्लास्टिक उत्पाद के प्रति यात्रियों काे जागरूक करने आए हैं। अपर नगर आयुक्त अरुण कुमार गुप्त की अगुवाई में अधिकारी और पार्षद स्टेशन पर खड़ी ट्रेन में सवार यात्रियों को पालीथिन और प्लास्टिक उत्पाद के नुकसान बताने लगे। अपर नगर आयुक्त ने यात्रियों से पूछा, क्या आप पालीथिन का उपयोग करते हैं? यात्रियों सिर हिला दिया। तब उन्होंने इससे मानव जीवन और पर्यावरण पर पड़ने वाले प्रभाव से अवगत कराया। कई यात्रियों ने भरोसा दिलाया कि वे भविष्य में पालीथिन और प्लास्टिक उत्पाद का उपयोग नहीं करेंगे।

पालीथिन त्‍यागने की दिलाई शपथ

भारत सरकार के आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय द्वारा प्रदेश को सिंगल यूज प्लास्टिक से मुक्त करने के लिए वृहद जन जागरूकता रेस अभियान चलाने के दिशा-निर्देश दिए हैं। शहरी क्षेत्र में ये अभियान नगर निगम ने शुरू किया है। अभियान के पहले दिन महानगर के गांधी पार्क, सासनी गेट, चौराहा, बारहद्वारी चौराहा और रेलवे स्टेशन पर प्लास्टिक उत्पाद और प्रतिबंधित पालीथिन त्यागने के लिए शपथ लोगों को शपथ दिलाई गई। गाधी पार्क में आयोजित शपथ कार्यक्रम में अपर नगर आयुक्त अरुण कुमार गुप्त, अपर जिला अधिकारी राकेश पटेल, उप नगर आयुक्त राज किशोर प्रसाद, उपसभापति डा. मुकेश शर्मा, पार्षद पुष्पेंद्र जादौन, रश्मि पंकज, संजय शर्मा, राजू पासवान, संजय पंडित ने लोगों को पालीथिन त्यागने की शपथ दिलाते हुए अपने घर-परिवार और बच्चों को पालीथिन का प्रयोग न करने के साथ जीव-जंतुओं और मानव शरीर पर इसके दुष्प्रभावों के प्रति जागरूक किया। बारहद्वारी चौराहा, सासनीगेट चौराहा पर सहायक नगर आयुक्त ठाकुर प्रसाद सिंह, मुख्य कर निर्धारण अधिकारी विनय कुमार राय, अधिशासी अभियंता अशोक कुमार भाटी के नेतृत्व में अभियान चलाया गया। गांधी पार्क में रेस अभियान का शुभारंभ अपर नगर आयुक्त और अपर जिलाधिकारी ने संयुक्त रूप से हरी झंडी दिखाकर किया था। नगर आयुक्त गौरांग राठी ने कहा कि प्रतिबंधित प्लास्टिक उत्पाद और पालीथिन के कारण बीमारियां फैल रही हैं। हमें अपने भविष्य की चिंता आज ही करनी होगी। इस महा अभियान के माध्यम से संपूर्ण विश्व में भारत ने कैंसर के विरुद्ध जंग का आगाज किया है। जिस तरह पोलियो और चेचक को हमने खत्म किया है, उसी प्रकार पालीथिन का नाम खत्म करेंगे। क्योंकि हम भारतीय हैं, जो ठान लेते हैं उसे करके दिखाते हैं।

पालीथिन समाज के लिए कलंक

अपर नगर आयुक्त ने कहा प्रतिबंधित प्लास्टिक उत्पाद और पालीथिन समाज के लिए कलंक की भांति है। इस कलंक को मिटाने के लिए सभी भारतीयों को एकजुट होकर इसके खिलाफ जंग लड़नी होगी और हिंदुस्तानी हर जंग को जीतने का माद्दा रखते हैं। अभियान में अधिशासी अभियंता मनोज कुमार प्रभात, कर अधीक्षक राजेश कुमार, पीओ डूडा प्रभात मिश्रा, जेई अमरीश वर्मा, एसएफआइ प्लक्षा मैनवाल, योगेंद्र यादव, नाजिर संजय सक्सेना, मीडिया सहायक अहसान रब, लिपिक राजकुमार बंसल, चक्रवती दत्त शर्मा आदि शामिल हुए।

Edited By: Sandeep Kumar Saxena