जासं, अलीगढ़ : रेलवे रोड इंदिरा मार्केट स्थित कार्यालय पर अलीगढ़ उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल ने बुधवार को शहीद दिवस मनाया।

महानगर अध्यक्ष मास्टर ओमप्रकाश ने कहा कि लखनऊ के अमीनाबाद में 26 मई 1979 को पुलिस की लाठी व बंदूक की गोली से शहीद हुए हरीश चंद्र अग्रवाल की शहादत पर यह दिवस मनाया जाता है। व्यापारी हित में वर्ष 2003 तक व्यापार मंडल के 14 व्यापारी शहीद हुए हैं। इस व्यापार मंडल को व्यापारियों ने अपने खून से सींचा है। कारोबारियों के शोषण व उत्पीड़न करने वालों को मुंह तोड़ जवाब देने के लिए व्यापार मंडल सक्षम है।

महानगर महामंत्री हाजी सुलेमान ने कहा कि चुंगी हटाने से लेकर बिक्री कर समाप्त करने तक 14 व्यापारियों ने अपनी शहादत दी। इस मौके पर सरदार ढालसिंह, अनूप गुप्ता, विशाल भगत, दीपक वाष्र्णेय, सर्वेश चंद्र वाष्र्णेय, ध्रुवेश चंद्र वाष्र्णेय, चौधरी मोहन सिंह, मनोज सिंह, राजेश चंद्र वाष्र्णेय और विष्णु आदि मौजूद थे।

प्रांतीय संगठन की हैसियत से भी मुझे नहीं बुलाया : सुरेश चंद्र

व्यापार मंडल की मंगलवार को हुई चुनाव प्रक्रिया के बाद आपसी खींचतान नहीं रुक रही। उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार मंडल के प्रांतीय संगठन मंत्री सुरेश चंद्र पेठा ने कहा कि उन्हें गत रोज की बैठक में नहीं बुलाया गया। जबकि व्यापार मंडल के संविधान में चुनाव प्रक्रिया या कोर कमेटी की बैठक में प्रांतीय पदाधिकारी का मौजूद रहना अनिवार्य है। उन्हें मास्टर ओम प्रकाश अध्यक्ष बनने से कोई एतराज नहीं था, न ही भूपेंद्र वाष्र्णेय के अध्यक्ष न बनने से मलाल। इससे प्रदेश अध्यक्ष मुकंद बिहारी मिश्रा को अवगत करा दिया है।

Edited By: Jagran