अलीगढ़, जेएनएन। इंडियन इंडस्ट्रीज एसोसिएशन (आइआइए) के अलीगढ़ चैप्टर के गठन के साथ ही काम करने का रोड मेप तैयार किया है। अलीगढ़ निर्मित ताला-हार्डवेयर, आर्टवेयर व अन्य उत्पादनों पर मेड इन अलीगढ़ की मोहर लगेगी। इसका प्रस्ताव परित हो गया है। सरकार उत्तर प्रदेश राज्य औद्योगिक निगम से आस्थान विकसित न कराकर उद्यमियों के समूहों को इंडस्ट्रीज क्षेत्र विकसित करने के लिए अधिकृत करें। सरकार इंन्फ्राष्ट्रेक्चर दे, तकनीक व उत्पादन की गुणवत्ता मैन्युफैक्चर्स खुद विकसित करेंगे। इस प्रस्ताव पर राष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक अग्रवाल ने सहमति जताई।

नवनियुक्‍त सचिव ने प्रस्‍तुतिकरण पर लगायी मोहर

राष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक अग्रवाल ने अलीगढ़ चैप्टर के नवनियुक्त सचिव मनीष बंसल के प्रस्तुतिकरण पर अपनी मोहर लगाई। उन्होंने कहा कि बिना उद्योगों के किसी भी शहर, देश का विकास संभव नहीं है। फिर भी उद्यमी अफसरों के साफ्ट टारगेट पर होते हैं। कभी प्रदूष के नाम पर डराया जाता है, जबकि पिछले लाकडाउन में देश की आवोहवा अच्छी हुई थी। राष्ट्रीय धरोहर व स्मारक कई कई किलो मीटर दूर से देखे जाते थे, जबकि लाकडाउन के कुछ ही दिन बाद फैक्ट्रियों का संचालन शुरू हो गया था। असल प्रदूषण तो वाहनों से होता है। अग्रवाल ने फुटकर कारोबार को एमएसएमई में शामिल किए जाने पर आपत्ति दर्ज कराई।

आइआइए की क्षमता का अच्‍छी तरह से जानते हैं मंडलायुक्‍त

मंडलायुक्त गौरव दयाल ने वे आइआइए की क्षमता को अच्छी तरह जानते हैं। यह संगठन एमएसएमई की बेहतरी के लिए काम कर रहा है। अलीगढ़ चैप्टर के गठन से उद्यमियों को एक मंच मिला है। जहां भी उनकी जरुरत महसूस की जाए, उसके लिए उद्यमी याद कर सकते हैं। राष्ट्रीय महासचिव दिनेश गोयल ने कहा कि एमएसएमई का देश की जीडीपी में 28 फीसद योगदान होता है। साढे छह करोड़ एमएसएमई उद्योग हैं। 15 करोड़ लोगों को रोजगार दिया जाता है। फिर भी हमें गलत नजरियें से देखा जाता है। गोयल ने अलीगढ़ के उद्योगों को विकसित करने के लिए हर संभव मदद का भरोसा दिया। मंचासीन अतिथियों में वरिष्ठ राष्ट्रीय उपाध्यक्ष नीरज सिंघल, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राजीव बंसल, राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष आलोक अग्रवाल, अलीगढ़ चैप्टर के चेयरमैन शलभ जिंदल, सचिव मनीष बंसल थे। अतिथियों का स्वागत कार्यक्रम संयोजक विकास जैन, जितेंद्र गोयल आदि ने किया। संचालन फैसिलिटेशन काउंसिल के सदस्य मनोज अग्रवाल ने किया। इस मौके पर उद्योगपति प्रदीप सिंघल, उपायुक्त श्रीनाथ पासवान, लघु उद्योग भारती के डा. राजीव अग्रवाल, जिलाध्यक्ष गौरव मित्तल, मुकेश जिंदल, अजय पटेल, अंबरीश गर्ग, सतीश माहेश्वरी, यतेंद्र मोहन झा, आलोक झा, सुधीर शर्मा, योगेश गोस्वामी, अनुपमा अग्रवाल, राहुल अग्रवाल, वैशाली जिंदल, रजनी जैन आदि मौजूद थे।

Edited By: Anil Kushwaha