हाथरस, जागरण संवाददाता। विधानसभा चुनाव सकुशल संपन्न कराने के लिए आबकारी विभाग जुट गया है। अवैध शराब के निर्माण, बिक्री व तस्करी पर अंकुश के लिए विशेष प्रवर्तन अभियान 31 मार्च तक चलेगा। अभियान के तहत जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक द्वारा गठित टीमें विशष चेकिग अभियान चलाएंगी। विधानसभा चुनाव में अवैध शराब खपाने की पूरी आशंका जताई जा रही है।

मतदाताओं को लुभाने के लिए बांटी जा सकती है शराब

विधानसभा चुनाव का डंका बजते ही प्रत्याशी अपने क्षेत्र में टिकटों की घोषणा होने के बाद सक्रिय हो जाएंगे। मतदाताओं को लुभाने के लिए शराब और पैसा तक बांटे जाने की आशंका है। ऐसे में शराब की तस्करी होने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता। शराब की तस्करी रोकने के लिए गठित टीमें अवैध शराब के निर्माण व बिक्री के संदिग्ध अड्डों पर छापेमारी करेंगी। साथ ही अन्य स्त्रोतों व टोल फ्री नंबर पर इस संबंध में मिली सूचनाओं व शिकायतों के आधार पर भी दबिश दी जाएगी। इसके अलावा राष्ट्रीय व राजमार्गों पर चेकिग की जाएगी। विधानसभा क्षेत्रों में बैरियर लगाकर वाहनों की सघन जांच-पड़ताल होगी। इसके लिए डीएम ने नौ उड़नदस्ते गठित कर दिए हैं।

संदिग्‍ध जगहों पर पुलिस कर रही छापेमारी

वहीं प्रशासन, पुलिस व आबकारी विभाग की संयुक्त टीम द्वारा जिला आबकारी अधिकारी सुबोध कुमार श्रीवास्तव के नेतृत्व में जनपद हाथरस में थाना सादाबाद अंतर्गत ग्राम कंचल नागला व मई में अवैध शराब के विभिन्न संदिग्ध अड्डों पर आकस्मिक दबिश व छापेमारी की कार्यवाही की गई। इस दौरान टीम द्वारा सादाबाद- आगरा मार्ग पर वाहनों की सघन चेकिंग की कार्यवाही की गई । कार्यवाही के दौरान आबकारी अपराध से संबंधित किसी प्रकार के मादक पदार्थ,अवैध मदिरा की बरामदगी नही हुई। इस दौरान टीम द्वारा क्षेत्र में संचालित देशी,विदेशी व बियर दुकानों का आकस्मिक निरीक्षण किया गया इस दौरान दुकानें नियमानुसार संचालित होती हुई पाई गई। कार्यवाही के दौरान उक्त अधिकारियों के साथ आबकारी निरीक्षक कृष्ण मुरारी सिंह, उप निरीक्षक प्रदीप सिंह व उप निरीक्षक सलामुद्दीन खान थाना सादाबाद मय टीम उपस्थित रहे। अवैध शराब के खिलाफ ये अभियान जारी रहेगा।

Edited By: Anil Kushwaha