अलीगढ़, जागरण संवाददाता। अलीगढ़ जनपद में 12 मार्च 2020 को कोरोना वायरस का पहला संक्रमित मरीज मिला था। इसके बाद से कोरोना के खिलाफ जंग जारी है। दूसरी लहर का भयावह दौर तो मस्तिष्क पटल पर अभी भी जीवंत है। लाकडाउन व अन्य प्रयत्न का आंशिक परिणाम ही निकला। कोविड टीकाकरण के बाद संक्रमित मरीजों की चेन टूटनी शुरू हुई। अब कोविड-19 वायरस के नए स्ट्रेन ओमिक्रान ने देश में दस्तक दे दी है। अन्य उपायों के अलावा सरकार का जोर फिर से कोविड टीकाकरण पर ही है। यही सही भी है, जितनी जल्दी हम स्वयं को कोरोना टीके से प्रतिरक्षित कर लें, सुरक्षा कवच उतना ही मजबूत होगा। ङ्क्षचता की बात ये है कि टीकाकरण अभियान को चले करीब 11 माह बीत गए, फिर भी सात लाख से अधिक लोग पहला टीका लगवाने भी नहीं पहुंचे। विशेषज्ञों के अनुसार जिन लोगों ने अभी तक पहला टीका भी नहीं लगवाया है, उनके लिए ओमिक्रान जानलेवा साबित होगा, वहीं टीका लगवाने वालों के लिए इसकी घातकता काफी कम होगी। ऐसे में सभी लोगों की जिम्मेदारी है कि आगे आकर टीकाकरण कराएं।

हालात

- 36 लाख से अधिक है जनपद अलीगढ़ की जनसंख्या

- 07 लाख से अधिक लोगों ने नहीं लगवाया अभी तक टीका

टीकाकरण की स्थिति

- 29.90 लाख टीके अब तक जनपद में लगाए गए

- 20.66 लाख लोगों को लग पाया है पहला टीका

- 9.24 लाख लोगों ने ही दोनों टीके लगवाए

- 15.38 लाख टीके लगे पुरुषों को

- 14.51 लाख टीके लगे महिलाओं को

- 24.15 लाख टीके कोविशील्ड के लगे

- 5.74 लाख टीके कोवैक्सीन के लगे

- 350 से अधिक बूथों पर हो रहा टीकाकरण

आयुवार टीकाकरण

आयुवर्ग, टीकाकरण

18-44 वर्ष, 19.59 लाख

45-60 वर्ष, 6.71 लाख

60 वर्ष से अधिक, 3.59

मंडल में टीकाकरण

जिला, टीकाकरण

अलीगढ़, 29.90

हाथरस, 13.15

एटा, 14.62

कासगंज, 10, 52

(टीकाकरण की संख्या लाख में दी गई है)

10 दिनों में टीकाकरण

दिनांक, टीकाकरण

03 दिसंबर, 13,139

02 दिसंबर, 10, 725

01 दिसंबर, 15,549

30 नवंबर, 34, 501

29 नवंबर, 36,875

28 नवंबर, 35,594

27 नवंबर, 40,153

26 नवंबर, 46,723

25 नवंबर, 49,086

24 नवंबर, 52,396

कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन जनपद में कब दस्तक दे दे, कहा नहीं जा सकता। इसलिए लोगों को कोविड प्रोटोकाल के साथ टीकाकरण को भी गंभीरता से लेना चाहिए। जिन लोगों ने अभी तक टीका नहीं लगवाया है या दूसरा टीका रह गया है, वे नजदीकी केंद्र पर पहुंचकर खुद को प्रतिरक्षित कर लें।

-डा. आनंद उपाध्याय, मुख्य चिकित्सा अधिकारी

Edited By: Sandeep Kumar Saxena