जागरण संवाददाता, अलीगढ़ : ऑल इंडिया बैंक इंप्लॉयज एसोसिएशन (एआइबीईए) के महासचिव सीएच वेंकटचलम ने केंद्र सरकार को चेताया है कि बैंकों का विलय किया तो देशभर के बैंकों में ताला डालकर कर्मचारी बेमियादी हड़ताल पर चले जाएंगे। बैंकों के निजीकरण का फैसला भी स्वीकार नहीं होगा।

वेंकटचलम शनिवार को यहां रघुनाथ मैरिज होम में ओरिएंटल बैंक स्टाफ एसोसिएशन के प्रांतीय सम्मेलन में भाग लेने से पहले पत्रकारों से मुखातिब थे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के नोटबंदी के फैसले का न तो आमजन को लाभ हुआ, न ही सरकार काला धन खोजने में सफल रही। एक ओर सरकार जनधन योजना के तहत आमजन को बैंकिंग से जोड़ रही है, दूसरी ओर बैंकों का निजीकरण करने की कसरत में जुटी है। पिछली वैश्विक मंदी में अमेरिका समेत अन्य विकसित देशों में 130 बैंकों को दिवालिया घोषित किया गया था। पर, भारत में बेहतर प्रबंधन के चलते किसी राष्ट्रीयकृत बैंक पर खतरा नहीं आने दिया गया। उन्होंने दावे से कहा कि बैंकों का विलय करने से बेरोजगारी बढ़ेगी। देश में पहले ही पांच लाख गांवों में बैंकिंग सेवा नहीं है। उन्होंने बैंकिंग सेवा शुल्क बढ़ाने व बचत खातों की ब्याज दर घटाने का भी विरोध किया। उन्होंने कहा कि बैंकों के निजीकरण के खिलाफ 15 सितंबर को कर्मचारी संसद पर प्रदर्शन करेंगे। अधिवेशन में वेंकटचलम ने संघर्ष का एलान किया। कहा, अक्टूबर में सरकार की मनमानी के खिलाफ दो दिवसीय हड़ताल रहेगी।

.........

कानून बनाकर हो कारपोरेट

घरानों से कर्ज की वसूली

सम्मेलन में यूनियन नेताओं ने कारोबारी घरानों से लोन वसूली के लिए कानून बनाकर रिपोर्ट दर्ज कराने की मांग उठाई। वेंकटचलम ने आरोप लगाया कि बैंक एग्जीक्यूटिव के एक वर्ग के कॉकस के कारण वसूली नहीं हो पाती। एआइबीईए के उपाध्यक्ष व यूपी बैंक इंप्लॉइज यूनियन महामंत्री मदन मोहन राय ने कहा कि सरकार दोहरे मापदंड अपना रही है। किसान, मजदूर व सामान्य वर्ग से छोटे कर्ज की वसूली पर पूरा जोर है। पर, औद्योगिक घरानों के नॉन परफॉर्मेस खाते (एनपीए) बढ़ते जा रहे हैं। एआइबीओए के महामंत्री शकरदेव धरे ने कर्मचारी एकजुटता पर जोर दिया।

सांस्कृतिक कार्यक्रम : परवाना फाउंडेशन ने सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश किए। गजल गायक जॉनी फॉस्टर, मीनाक्षी नागपाल व डॉ. पूनम सारस्वत के निर्देशन में बाल कलाकारों ने रंगारंग कार्यक्रम पेश किए। संचालन डॉ. राकेश सक्सेना ने किया।

देशभर से आए प्रतिनिधि : सम्मेलन को एसएस सिसौदिया, डीके पोद्दार, राकेश भाटिया, नरेश बागड़ी, आरके महेंद्र, एसकेएस सेंगर, सीके गोडिया, राजपाल शर्मा, आरके सक्सेना, अरविंद शाह, सेंट्रल बैंक स्टाफ एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष सीएम गौतम, कमल मनचंद्रा, सुशांत भट्टाचार्य, संजीव श्रीवास्तव, कृष्ण हरी पांडेय आदि ने संबोधित किया। अध्यक्षता प्रातीय अध्यक्ष दिनेश कुमार सक्सेना ने की।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस