अलीगढ़, जेएनएन । इसे लापरवाही कहा जाय गलती जिससे लोगों की जान पर बन आए। दरअसल एक महिला कोरोना की दूसरी डोज लगवाने सामुदायिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र पर गयी थी जहां नर्स ने उसे कुत्‍ता काटने का इंजेक्‍शन लगा दिया। घर आने पर महिला की हालत गंभीर हो गयी। मामला पिसावा के सामुदायिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र का है।

18 अप्रैल की घटना

पिसावा की एक 55 वर्षीय महिला 18 अप्रैल को चंडौस सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर कोरोना वैक्सीन का दूसरा टीका लगवाने गयी थी। महिला ने अपनी पिछली वैक्सीन से सम्बंधित पेपर दिखा कर पर्चा बनवाया लेकिन वहां मौजूद स्टाफ ने महिला को कुत्ता काटने का टीका लिख दिया और लगा दिया। महिला घर पहुंची तो उसकी तबीयत खराब होने लगी तो बच्चों ने उसका पर्चा देखा तो होश उड़ गए।  शिकायत की तो स्वास्थ्य कर्मियों ने समझा बुझा कर घर भेज दिया। तब से  महिला की तबीयत अभी भी खराब है। चक्कर जलन और आंखों से कम दिखाई देने की समस्या बता रही है। वह शुगर की भी मरीज है।