अलीगढ़,  जागरण संवाददाता। Aligarh News :  जिले के माध्यमिक विद्यालयों को परीक्षा केंद्र बनाए जाने की तैयारी यूपी बोर्ड ने शुरू कर दी है। कालेजों द्वारा दी गई सूचना का सत्यापन भी कराया गया है। वहीं दूसरी ओर प्रधानाचार्य व शिक्षक विद्यार्थियों की मजबूत तैयारी कराने की तैयारी में हैं। कोरोना काल में लाकडाउन के समय में नए सत्र की पढ़ाई विद्यार्थियों को आनलाइन माध्यम से कराई गई थी। माध्यमिक कालेजों में अब आफलाइन पढ़ाई शुरू करा दी गई है। माध्यमिक विद्यालयों के छात्र-छात्राएं आधुनिक संसाधनों से लैस नहीं होते मगर जो जिसके पास जैसी सुविधा है उसको उस स्तर से पढ़ाने का खाका तैयार किया गया है।

आनलाइन माध्‍यम से होगी तैयारी

परीक्षाओं की मजबूत तैयारी विद्यार्थियों को कराने के लिए प्रधानाचार्यों ने आनलाइन प्लेटफार्म का सहारा भी लेना शुरू किया है। गूगल क्लास रूम के जरिए विद्यार्थियों को आनलाइन माध्यम से भी तैयारी कराई जाएगी। विद्यालयों में बुलाकर विद्यार्थियों को पढ़ाई व परीक्षाओं की तैयारी कराई जा रही है। जो विद्यार्थी आनलाइन कक्षाओं से जुड़ने में अक्षम हैं उनको कालेज में तैयारी कराई जा रही है।

इसे भी पढ़ें *Aligarh News : बाहरी छात्रों के दस्तावेज जमा करने में प्रधानाचार्यों ने दिखायी सुस्‍ती, परीक्षा पर खतरा*

तीन कैटेगरी में बांटा गया विद्यार्थियों को

डीआइओएस सुभाष बाबू गौतम ने बताया कि विद्यार्थियों को तीन कैटेगरी में बांटा गया है। कंप्यूटर व इंटरनेट की सुविधा वाले विद्यार्थी, मोबाइल पर वाट्सएप सुविधा वाले विद्यार्थी और तीसरे वो जिनके पास बटन वाले फोन हैं व इंटरनेट भी उपयोग नहीं कर सकते। प्रधानाचार्यों संग बैठक कर निर्देशित किया गया है कि, छात्र-छात्राओं को आनलाइन माध्यम से पढ़ाने व परीक्षा की तैयारी कराई जाए। अगर बोर्ड परीक्षार्थियों की कोई विषय संबंधी समस्या या शंका है तो उसे आनलाइन माध्यम से भी दूर किया जाए।

​​​​​इसे भी पढ़ें *Aligarh News: Facebook पर डाली कारागार के अंदर की तस्वीरें, अफसर बेचैन, अब होगा ये सब*

गूगल क्‍लासरूम के जरिए लगेंगी कक्षाएं

बताया कि टीआर इंटर कालेज, बाबूलाल जैन इंटर कालेज, डीएवी कालेज आदि में गूगल क्लासरूम के जरिए कक्षाएं लगाने की व्यवस्थाएं हैं। इनके अलावा जिन छात्र-छात्राओं की गूगल क्लासरूम से पढ़ाई नहीं हो रही उनको वाट्सएप ग्रुप से जोड़कर परीक्षा की तैयारी व पढ़ाई कराने का काम किया जाएगा। जिले में 94 एडेड, 35 राजकीय व करीब 680 वित्तविहीन कालेज हैं। यहां के विद्यार्थियों को आनलाइन माध्यम से परीक्षा की तैयारी कराई जाएगी।

Edited By: Anil Kushwaha

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट