अलीगढ़, जागरण संवाददाता। दीपावली त्योहार पर नुमाइश मैदान में 27 अक्टूबर से लगने वाले आतिशबाजी बाजार को लेकर प्रशासनिक तैयारियां सुस्त रफ्तार से चल रही हैं। अधिकांश दुकानों के बाहर गड्ढे हैं। साइकिल स्टैंड व टेंट का ठेका भी नहीं हुआ है। अब तक साउंड व लाइट का ही ठेका हो सका है। अफसर समय से सभी ठेके जारी करने का दावा कर रहे हैं। कलक्ट्रेट में अस्थाई दुकानों के लिए लाइसेंस बनने शुरू हो गए हैं। पुलिस वेरिफिकेशन का काम चल रहा है। एक दुकान छोड़कर दूसरी दुकान में आतिशबाजी रखी जाती है। प्रशासन ने इस बार भी पिछले साल की कीमत में दुकानें आवंटित करने का फैसला किया है।

टेंट का ठेका नहीं हुआ

इस बार चार नवंबर को दीपावली का त्योहार है। 27 अक्टूबर से छह नवंबर तक नुमाइश मैदान में आतिशबाजी मेला लगेगा। बाजार लगने में 10 दिन का समय हैैं। बीते दिनों बाजार के लिए प्रशासन ने साउंड, लाइट, टेंट व पार्किंग का ठेका उठाने के लिए प्रक्रिया की थी। इसमें साउंड व लाइट का ही ठेका उठ सका। पार्किंग के लिए किसी ने आवेदन नहीं किया है। टेंट के लिए दो ठेकेदार आए थे, जिन्होंने कुछ शर्तें रख दी थीं, इसलिए ठेका नहीं हो सका।

दुकानों के सामने गड्ढे

 बारिश से नुमाइश मैदान में दुकानों के सामने गड्ढे हो गए थे। ये भी नहीं भरवाए गए हैैं। ये दुरुस्त नहीं कराए गए तो दुकानदारों को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता हैं। नुमाइश प्रभारी व सिटी मजिस्ट्रेट विनीत कुमार ने बताया कि आतिशबाजी बाजार की तैयारियां चल रही हैं। सभी ठेके समय से पहले उठा दिए जाएंगे। गड्ढों को को भी दुुरुस्त कराया जाएगा।

पुराने रेट ही रहेंगे

 नुमाइश मैदान में 500 से अधिक दुकानें हैं। अधिकांश दुकानें आतिशबाजी बाजार के लिए आवंटित हो जाती हैं। एक दुकान छोड़कर दूसरी दुकान में आतिशबाजी रखी जाती है। प्रशासन ने इस बार भी पिछले साल की कीमत में दुकानें आवंटित करने का फैसला किया है।