अलीगढ़ (जेएनएन)। अकराबाद थाना क्षेत्र के गांव पिलखना में एक  परिवार दबंगों से परेशान होकर मकान बेच कर पलायन को तैयार है। उसने मकान बेचने के लिए मकान पर लिख भी दिया है। यह परिवार है कुलदीप पुक्ष नसरुद्दीन का। उसका कहना है कि गांव के ही कुछ दबंग उसे रहने नहीं दे रहे हैं। कुछ दिन पहले लूट व मारपीट की थी।  इसकी रिपोर्ट दर्ज कराई गई। पुलिस ने अब तक कोई कार्रवाई नहीं की। द

दो अगस्त को की थी मारपीट

दो अगस्त को सुबह ग्यारह बजे चार-पांच लड़के दुकान पर आए। गाली देने लगे। पूछने पर मारपीट करने लगे। दोनों बेटों व मेरे साथ मारपीट की। मैं तो बाहर ही था। दोनों बेटे अंदर थे। शोर सुनकर बाहर आए तो उन्हें भी मारा। कुछ लोग बचाने आए तो उन्हें भी मारा। इस बीच मेरी जेब में बाइस हजार रुपये थे, वे निकाल लिए। गल्ले से भी पैसे निकाल लिए। सौ नंबर पर पुलिस को सूचना दी। कुछ देर बाद पुलिस आई और थाना अकराबाद ले गई।  लेकिन अभी तक रिपोर्ट दर्ज नहीं की।

एसएसपी से लगाई गुहार

कोई कार्रवाई न होने पर हम एसएसपी से मिले और कार्रवाई की मांग की। बताया कि आरोपित घूम रहे हैं। धमकियां दे रहे हैं। उन्हें बताया कि दबंग लोग रहने नहीं दे रहे हैं। रुपये लूट ले जा चुके हैं। मारपीट कर चुके हैं। पूरा परिवार परेशान हैं। उन्होंने कार्रवाई का आश्वासन दिया था। इस पर हम लौट आए, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

मुंह पर कपड़े बांधकर आते हैं दबंग

हर रोज शाम व रात के समय दबंग लोग मुंह पर कपड़ा बांध कर आते हैं और फैसला करने का दवाब बनाते हैं। कहते हैं फैसला न किया तो तुझे व तेरे बेटों को मार दिया जाएगा। पिलखना में रहने नहीं दिया जाएगा। इसकी भी जानकारी पुलिस को दी गई है। लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हो रही।

मकान व दुकान न बेंचू तो और क्या करूं

कुलदीप का कहना है कि दबंग परेशान कर रहे हैं। पूरा परिवार परेशान है। दहशत में है। पुलिस कार्रवाई नहीं कर रही। एेसे में दुकान व मकान बेच कर कहीं और जाने के अलावा कोई विकल्प नहीं है। मकान व दुकान न बेंचू तो और क्या करूं।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Mukesh Chaturvedi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप