अलीगढ़, जागरण संवाददाता। जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे की अध्यक्षता में कलक्ट्रेट सभागार में नगर पालिका एवं नगर पंचायतों को संसाधन युक्त बनाने एवं विभिन्न प्रकार के विकास कार्य कराए जाने के लिए बैठक का आयोजन किया गया। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार नगरीय निकायों के स्वस्थ विकास एवं जनसमान्य के जीवन स्तर को बढ़ाने के लिए निरंतर प्रयास कर रही है। सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों के सार्थक परिणाम भी देखने को मिल रहे है। प्रदेश के मुख्यमंत्री जी द्वारा कल प्रदेश भर में 76 नगर पंचायतों के कार्यालय भवन का शिलान्यास किया गया है। डीएम ने सभी अधिशासी अधिकारियों को निर्देशित किया कि प्राप्त राशि को जनहित के कार्यों में सदुपयोग करते हुए जनता को लाभ दिलाएं विकास कार्य मानक के अनुरूप एवं गुणवत्ता परक ढंग से समयबद्धता के साथ पूर्ण कराए जाएं।

बैठक में लिए अहम निर्णय 

कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक में अध्यक्ष नगर पंचायत एवं नगर पालिका, अधिशासी अधिकारी, अधिशासी अभियंता जल निगम, लोक निर्माण विभाग उपस्थित रहे। डीएम ने कहा कि सरकार द्वारा आवंटित धनराशि का अनुमोदित प्रस्ताव के अनुरूप ही कार्य किये जाए। नगर निकायों में साफ-सफाई, सड़क, आवास, जल निकासी एवं जलापूर्ति की व्यवस्थित एवं सुचारु व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराते हुए कार्य योजना लंबी अवधि को ध्यान में रखकर बनाया जाए।अपर जिलाधिकारी प्रशासन डी पी पाल ने सभी चेयरमैन से कहा कि उनके परिश्रम और पुरुषार्थ से नगर निकायों में जन सुविधाओं को और व्यापक तौर पर बढ़ाया जा सकता है। वर्तमान में नगरीय विकास पूर्ण क्षमता के साथ हो रहा है जिससे जन जन के जीवन में व्यापक बदलाव देखने को मिल रहा है। उन्होंने स्वच्छता अपनाए जाने एवं स्वच्छता के प्रति आम जनमानस को जागरूक रहने और करने की बात करते हुए कहा कि स्वच्छता अपनाकर हम विभिन्न प्रकार की बीमारियों से सुरक्षित रह सकते हैं।

नगर पालिका एवं नगर पंचायतों में टाइड टाइड ग्राम से होने वाले कार्य

नगर पालिका और नगर पंचायतों में सड़क निर्माण, जल निकासी, पेयजल, सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट से संबंधित कार्य, नाला नाली निर्माण, प्रकाश व्यवस्था, हैंडपंप, शौचालय, पेयजल, विद्यालयों का जीर्णोद्धार आदि कार्य कराए जाने के लिए स्वीकृति प्रदान की गई।