जागरण संवाददाता, अलीगढ़ : क्वार्सी क्षेत्र के जमालपुर में रेलवे लाइन के सहारे युवक का शव पड़ा मिला। उसकी गला रेतकर हत्या कर दी गई है। युवक की पहचान रिक्शा चालक के रूप में हुई है। वह गुरुवार शाम को घर से घूमने निकला था। रातभर स्वजन खोजते रहे। सुबह उसका रक्तरंजित शव मिला। पास में ही घटना में प्रयुक्त छुरा भी पड़ा मिला है। पुलिस जांच में जुट गई है।

क्वार्सी के नगला पटवारी स्थित शहंशाहबाद मौलाना आजाद नगर निवासी 32 वर्षीय अशफाक रिक्शा चलाने के साथ बेलदारी भी करता था। बड़े भाई इकबाल के अनुसार अशफाक गुरुवार शाम घर पहुंचा था। कुछ देर बाद कहीं जाने की कहकर निकल गया। देर रात तक नहीं लौटने पर तलाश की गई, मगर पता नहीं चला। सुबह जमालपुर रेलवे लाइन के पास अशफाक का खून से लथपथ शव पड़ा मिला। हत्यारों ने छुरे से गर्दन व हाथ की कलाई पर कई वार किए थे। सिर में चोट के निशान थे। पास ही घटना में प्रयुक्त छुरा भी खून से सना पड़ा मिला। फोरेंसिक टीम ने पहुंचकर साक्ष्य एकत्रित किए हैं। अशफाक सात भाई- बहनों में तीसरे नंबर का था। वह एक साल के बेटे अयान का पिता था। पत्नी शबाना व स्वजन बेहाल हैं।

छह दिन पहले पत्नी गई थी मायके

क्वार्सी इंस्पेक्टर विजय सिंह के अनुसार जांच में पता चला है कि अशफाक का छह दिन पहले पत्नी से विवाद हो गया था। पत्नी नाराज होकर मौलाना आजाद नगर स्थित मायके में चली गई। उसे बुलाने के लिए अशफाक कई दिन गया, लेकिन उसने आने से साफ इन्कार कर दिया। पता चला है कि अशफाक गुरुवार को बेटे को लेकर पत्नी को बुलाने पहुंचा था। पत्नी के मना करने पर वह बेटे को उसे सौंपकर चला आया था।

..............

स्वजन की ओर से कोई तहरीर नहीं मिली है। पुलिस अपने स्तर से ही कई बिदुओं पर जांच कर रही है। जल्द राजफाश किया जाएगा।

श्वेताभ पांडे, सीओ सिविल लाइन

Edited By: Jagran