अलीगढ़, जेएनएन।  जिले को एक और सौगात मिल गई है। यहां नौवां छर्रा सर्किल क्रियाशील हो गया। सीओ देवीगुलाम ने कामकाज भी शुरू कर दिया। बुधवार को यहां फरियादी भी आने लगे। जिले में महिला थाने को मिलाकर कुल 27 थाने थे। इन्हें आठ सर्किल में बांटा गया था। वहीं इस साल जिले में गोधा, महुआखेड़ा व रोरावर थाना नए खोले गए हैं। ऐसे में बरला, अतरौली व सिविल लाइन सर्किल पर भार बढ़ गया। वहीं थाना गंगीरी, दादों, छर्रा और पालीमुकीमपुर के लोगों को सीओ कार्यालय तक पहुंचने में काफी समय लगता था। विशेषकर महिलाएं, वृद्ध व दिव्यांगजनों को परेशानी होती थी। इसे देखते हुए एसएसपी कलानिधि नैथानी ने शासन से नौवां सर्किल छर्रा स्वीकृत कराया। एसएसपी ने 26 जुलाई से नए सर्किल छर्रा को प्रचलित करने के आदेश दिए थे। नवसृजित सर्किल छर्रा पर देवीगुलाम को सीओ नियुक्त किया गया है। सोमवार से यहां कामकाज शुरू हो गया। कार्यालय में तीन हेड कांस्टेबल, तीन सिपाही, एक महिला सिपाही की भी नियुक्ति हुई है। 

बरला व सिविल लाइन सर्किल में थे पांच-पांच थाने

अब तक बरला सर्किल में थाना बरला, गंगीरी, छर्रा, अकराबाद व विजयगढ़ शामिल था। इसी तरह सिविल लाइन सर्किल में थाना सिविल लाइन, क्वार्सी, जवां, महुआखेड़ा व गोधा शामिल था। इसी अतरौली सर्किल में थाना अतरौली, हरदुआगंज, दादों व पालीमुकीमपुर आते थे। सर्किल द्वितीय में थाना गांधीपार्क, बन्नादेवी व महिला थाना था। नए प्रस्ताव के तहत अब छर्रा सर्किल में थाना छर्रा, पालीमुकीमपुर, गंगीरी, दादों को शामिल किया गया है। इसी तरह बरला सर्किल में थाना बरला, विजयगढ़, अकराबाद रहेंगे। अतरौली सर्किल में थाना अतरौली, हरदुआगंज व गोधा शामिल होंगे। सिविल लाइन सर्किल में थाना सिविल लाइन, क्वार्सी व जवां रहेंगे। वहीं द्वितीय सर्किल में गांधीपार्क, बन्नादेवी, महिला थाना के अलावा महुआखेड़ा को रखा गया है।

Edited By: Anil Kushwaha