अलीगढ़, जागरण संवाददाता। थाना रोरावर इलाके के नींबरी मोड़ के पास कारखाना संचालक की बुधवार देर रात मोटर से करंट लगने से मौत हो गई। हादसा उस वक्त हुआ जब वे कारखाने में सो रहे थे। किसी तरह पास में ही लगी मोटर पर हाथ लग जाने और करंट लगने से मौत हो गई। हादसे की खबर पाकर बाबर के मामा व अन्य रिश्तेदार भी अस्पताल पहुंच गए। हादसे के बाद स्वजन बेहाल हैं। थाना रोरावर के इंस्पेक्टर सुनील कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि स्वजन बिना किसी कार्रवाई के ही कारोबारी के शव को घर ले गए।

ऐसे हुआ हादसा

50 वर्षीय जाहिद खान नींबरी मोड़ के पास कारखाना चलाते थे। कारोबारी के पास छोटा बेटा बाबर रहता है। जो शहर के एक स्कूल से पढ़ाई कर रहा है। पत्नी नगमा, तीन बेटे तन्नू, अहद व रशाद आगरा में रहते है।बाबर ने बताया कि देर रात उसके अब्बा कारखाने में सो रहे थे और वह दोस्तों के साथ कहीं बाहर घूमने निकल हुआ था। देर रात घर पहुंचा तो अब्बा जमीन पर पड़े हुए थे। एक हाथ मोटर पर था। आवाज लगाई, लेकिन कोई जवाब नही आया। शोर-शराबे पर आसपास के लोगों की भीड़ लग गई।पड़ोसियों की मदद से कारोबारी को जिला अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां डाक्टरों ने उनको मृत घोषित कर दिया। इधर, हादसे की खबर पाकर बाबर के मामा व अन्य रिश्तेदार भी अस्पताल पहुंच गए। हादसे के बाद स्वजन बेहाल हैं। रोरावर इंस्पेक्टर सुनील कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि स्वजन बिना किसी कार्रवाई के ही कारोबारी के शव को घर ले गए।