अलीगढ़ (जेएनएन)। अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. तारिक मंसूर ने समाज के सभी वर्गों से अपील की है कि वे अयोध्या मसले में सुप्रीम कोर्ट के प्रस्तावित फैसले का सम्मान करें। कोई ऐसा बयान न दे या काम न करें, जिससे विश्वविद्यालय परिसर, शहर या देश का शांतिपूर्ण माहौल दूषित हो। उन्होंने छात्रों को विशेष संयम बरतने की सलाह दी। 

सर्वोच्च निर्णय को स्वीकार करें

कुलपति ने अपील में कहा है कि विश्व के सामने यह साबित करने का समय है कि भारत के लोग कानून की हुक्मरानी में विश्वास रखते हैं। वे सर्वोच्च अदालत के निर्णय को पूरी गंभीरता के साथ स्वीकार करेंगे। प्रो. मंसूर ने कहा कि मैं विशेष रूप से अपने छात्रों को आगाह करता हूं कि वे सोशल मीडिया पर झूठे प्रचार से सावधान रहें।

भाईचारे को बरकरार रखें

कुलपति ने कहा है कि हम सभी को पूरे देश में धैर्य का प्रदर्शन करते हुए भाईचारे को बरकरार रखना है। हम विभिन्न संस्कृतियों, भाषाओं व धर्मों पर आधारित कौम हैं। अमूल्य संस्कृति हमारी धरोहर है और एकता हमारी सबसे बड़ी ताकत है। एएमयू समुदाय शिक्षकों, छात्रों, गैर शिक्षक कर्मचारियों, पूर्व छात्रों व शुभचिंतकों से अपील है कि वे समाज के सभी वर्गों में भाईचारा व रिश्ता बरकरार रखने के लिए मिलजुल कर काम करें।

Posted By: Sandeep Saxena

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप