अलीगढ़, जागरण संवाददाता। महुआखेड़ा थाना क्षेत्र के बौनेर के पास 10 दिन पहले हुए भीषण हादसे में शुक्रवार को एक और महिला ने दम तोड़ दिया। जेएन मेडिकल कालेज में महिला का इलाज चल रहा था। आठ माह पहले ही महिला की शादी हुई थी। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव स्वजन के सिपुर्द कर दिया। पुलिस के मुताबिक, अभी दो लोग अस्पताल में भर्ती हैं।

यह है मामला

18 जनवरी की दोपहर को धनीपुर हवाई पट्टी के पास कासगंज से आ रही निजी बस व ट्रक के बीच आमने-सामने भिड़ंत हुई थी। लोगों ने वाहनों को काटकर सवारियों को बाहर निकाला। पुलिस की मदद से घायलों को अस्पताल भिजवाया गया। हादसे में अकराबाद के नगरिया चाहरम पट्टी निवासी 46 वर्षीय उर्मिला पत्नी नंदकिशोर, गंगीरी के कुतुबपुर अमरपुर निवासी जयवंती पत्नी हीरालाल की मौके पर ही मौत हो गई थी। 19 जनवरी को कासगंज के भोपालगढ़ी निवासी 45 वर्षीय पुरुषोत्तम की भी मौत हो गई थी। इंस्पेक्टर सुनील कुमार ने बताया कि गंगीरी के गांव शादीपुर कुमरौआ निवासी 22 वर्षीय उर्मिला पत्नी मंगल सिंह ने भी दम तोड़ दिया।

दो माह की गर्भवती थी उर्मिला

उर्मिला की शादी आठ माह पहले 23 मई 2021 को गंगीरी के गांव शादीपुर कुमरौआ निवासी मंगल सिंह के साथ हुई थी। अकराबाद के गांव शाहगढ़ निवासी पिता जालिम सिंह ने बताया कि उर्मिला के पति मंगल अलीगढ़ में मजदूरी करते हैं। 18 जनवरी को उर्मिला पति के पास जा रही थी। वहां से उसे दवा लेने के लिए एटा जाना था। लेकिन, रास्ते में हादसा हो गया। इधर, स्वजन को घटना की जानकारी 19 जनवरी को हुई थी। इसीलिए उर्मिला की शिनाख्त भी नहीं हो सकी थी। स्वजन अलीगढ़ आए तो अलग-अलग अस्पतालों में भटकते रहे। 19 जनवरी को दोपहर में मेडिकल पहुंचे स्वजन ने उर्मिला की पहचान की थी। तब से उर्मिला का मेडिकल में ही इलाज चल रहा था। जालिम के मुताबिक, उर्मिला दो माह की गर्भवती थी।

Edited By: Sandeep Kumar Saxena