अलीगढ़ [जेएनएन]: कक्षा एक से आठ तक के सरकारी स्कूलों के शिक्षकों का डेटा सही कर मानव संपदा पोर्टल पर फीड कराया जा रहा है। पहले 30 जून फिर 15 जुलाई तक डेटा फीड करने की अंतिम तिथि जारी की गई। मगर 15 जुलाई तक भी जिले के एक हजार से ज्यादा शिक्षकों ने पोर्टल पर फीड अपने डेटा को चेक करने की जहमत नहीं उठाई। 

गूगल फार्म नहीं खोला

जिले में शिक्षक, अनुदेशक व शिक्षामित्र मिलाकर करीब आठ हजार शिक्षक-शिक्षिकाएं हैं। 15 जुलाई तक 85 फीसद के हिसाब से लगभग 68 हजार शिक्षकों ने गूगल फार्म पर अपना डेटा चेक कर उस पर रिस्पांस किया है। यानी या तो डाटा सही कर सेव किया या सही डेटा देखकर सबमिट कर दिया। बाकी करीब 15 फीसद के हिसाब से लगभग 1200 शिक्षकों ने गूगल फार्म खोला ही नहीं। इन सभी को शासन की ओर से अंतिम चेतावनी जारी की गई है। तिथि को आखिरी बार बढ़ाते हुए 31 जुलाई किया गया है।

वेतन रोकने की कार्रवाई

दरअसल, 15 जुलाई तक जिन शिक्षकों का सही डेटा फीड नहीं होता उनका वेतन रोकने की कार्रवाई करनी थी। इंटरनेट आदि की समस्या को देखते हुए अंतिम बार तिथि बढ़ाई गई है। बीएसए डॉ. लक्ष्मीकांत पांडेय ने बताया कि  31 जुलाई तक जिनके डेटा सही नहीं किए गए उनके खिलाफ वेतन या मानदेय रोकने की कार्रवाई की जाएगी।

गूगल फार्म पर देना है रिस्पांस

इस व्यवस्था के तहत गूगल फार्म जनरेट किया गया है। शिक्षक को गूगल फार्म खोलकर अपना डेटा देखकर चेक करना है। भरी हुई जानकारी में कोई संशोधन हो तो उसको ठीक कर सबमिट कर देना है। 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप