अलीगढ़, जागरण संवाददाता। सड़क सुरक्षा सप्ताह के दूसरे दिन शनिवार को संभागीय परिवहन कार्यालय के सारथी भवन में बस, ट्रक, आटो, ई-रिक्शा व टैक्सी चालकों के यूनियन के पदाधिकारियों के साथ जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें संभागीय परिवहन अधिकारी (प्रवर्तन) फरीदउद्दीन ने बताया कि मानकविहीन अथवा निम्न गुणवत्ता के हेलमेट न लगायें, क्योंकि दुर्घटना के समय ये जान बचाने में सहायक सिद्ध नहीं होते हैं। प्रत्येक वर्ष देश में लगभग 42 हजार लोगों की मौत केवल मानक के अनुरूप हेलमेट न पहनने या हेलमेट का प्रयोग न करने के कारण होती है।

दस मिनट पहले घर से निकलें

सीओ ट्रैफिक मोहसिन खान ने बताया कि जब हम घर से देरी से निकलते हैं और सड़क पर जल्दी पहुंचने की वजह से ओवरस्पीडिंग करते हैं, जो कि दुर्घटना का कारण बनता है। इससे बचने के लिए पांच-10 मिनट पहले ही घर से निकलें, ताकि वाहन को नियंत्रित गति से चला सकें। उन्होंने बताया कि देश में हर साल लगभग एक लाख की मौत केवल ओवरस्पीडिंग के कारण ही होती है। सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी (प्रशासन) रंजीत सिंह ने बताया कि चार पहिया वाहन चलाते समय सीटबेल्ट का प्रयोग अवश्य करना चाहिए। देश में प्रतिवर्ष लगभग 17 हजार लोगोें की मृत्यु केवल सीटबेल्ट का प्रयोग न करने के कारण ही होती है। इस बारे में लोगों को लगातार जागरूक किया जा रहा है, लेकिन फिर इसकी अनदेखी कर देते हैं। ये न तो उनके लिए ठीक और न परिवार के लिए। संभागीय निरीक्षक संतोष कुमार ने आडियो-विजुअल के माध्यम से लोगों को नियमों का पालन करने के लिए जागरूक किया। कहा,सड़क पर वाहन लेकर निकलें या पैदल ट्रैफिक नियमों का पालन जरूर करें।

सुरक्षित चलने के प्रति किया जागरूक

अलीगढ़ : एटा चुंगी चौराहा व क्वारसी चौराहे पर बस, आटो, ई-रिक्शा चालकों को एकत्रित कर पुलिस ने यातायात नियमों व संकेतों की जानकारी दी। बताया कि वाहन चलाते समय मदिरा का सेवन न करें। चार पहिया वाहन चलाते समय सीट बेल्ट का प्रयोग जरूर करें।