अलीगढ़, जेएनएन। एटा के चालक संजीव की हत्या के मामले में पुलिस आरोपितों की तलाश में जुट गई है। संजीव का शव गांधीपार्क थाना क्षेत्र के एटा चुंगी चौराहे के पास गुरुवार को महिंद्रा एक्सयूवी कार में मिला था। हालांकि मौत का कारण स्पष्ट नहीं है। लेकिन, पुलिस ने देररात अज्ञात में हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया था।

इधर, सीसीटीवी में एक युवक कार से निकलते दिखा है। पुलिस इसकी पहचान करा रही है।

यह है मामला

एटा के थाना जलेसर के बड़ावली निवासी 45 वर्षीय संजीव यादव यहां महुआखेड़ा थाना क्षेत्र की शिवलोक कालोनी में परिवार के साथ रहते थे। संजीव कासिमपुर पावर हाउस में लगी डेल्टा कंपनी के चालक थे। पुलिस के मुताबिक, संजीव ग्रीन पार्क से कंपनी के एक अधिकारी को रोजाना पावर हाउस लेकर जाता था। बुधवार को अधिकारी नहीं गए। लेकिन, संजीव कार लेकर निकला था। सुबह करीब 10 बजे उसे ग्रीन पार्क के आसपास देखा गया। उसके बाद कोई पता नहीं चला। गुरुवार को ही स्वजन ने महुआखेड़ा थाने में गुमशुदगी की शिकायत भी दी थी। पुलिस की जांच में सामने आया है कि बुधवार दोपहर तीन बजे के बाद से ही एक्सयूवी कार (यूपी 16 एयू 3841) एटा चुंगी से कमालपुर को जाने वाले रास्ते पर चौराहे से 20 कदम दूर खड़ी थी। शीशे लाक थे। पुलिस ने लाक तोड़कर शव को बाहर निकाला। पुलिस ने सीसीटीवी खंगाले हैं, जिसमें कार खड़ी दिख रही है। एक युवक इसमें से निकलता भी दिखा है। इंस्पेक्टर हरिभान सिंह राठौर ने बताया कि अज्ञात में हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। फिलहाल चौराहे पर लगे सीसीटीवी देखे जा रहे हैं। संजीव की सीडीआर भी खंगाली जा रही है। वहीं पोस्टमार्टम के बाद ही मौत का सही कारण पता लग सकेगा।