अलीगढ़ (जेएनएन)। पालीमुकीमपुर पुलिस ने एटीएम बदलकर लोगों से ठगी करने वाले गैंग के चार सदस्य दबोच लिए। जबकि सरगना समेत दो फरार हो गए। उन्होंने कई घटनाओं में शामिल होना स्वीकारा है।

एसपी देहात मणिलाल पाटीदार ने सोमवार को मीडिया को बताया कि पालीमुकीमपुर एसओ सुधीर कुमार रविवार रात गश्त पर थे। छर्रा की तरफ से सफेद बोलेरो आती दिखी। रुकवाई तो दो युवक उतरकर भाग गए। पुलिस के पीछा किया लेकिन उन्हें नहीं पकड़ा जा सका। जबकि कार सवार मानपाल लोधी निवासी मोहल्ला भूतेश्वर, बिलराम गेट, कासगंज, संतोष कुमार सैनी निवासी कटरा मठ, कासगंज, विनोद कुमार यादव व वीरेश निवासीगण खड़ौआ थाना पाली मुकीमपुर को पकड़ लिया, जिनके पास से 20 एटीएम कार्ड, 11 हजार रुपये नकद, 1200 ग्राम नशीला पदार्थ डायजापाम बरामद हुआ। फरार सरगना का नरेश कुमार निवासी खंजी नगला प्रहलादपुर, कासगंज, व गुरफान अज्ञात बताया गया है।

बातचीत में उलझा कर करते थे ठगी

एसपी देहात ने बताया कि नरेश साथियों को लेकर बोलेरो में घूमते थे। इस दौरान नरेश एटीएम के पास गाड़ी खड़ी कर एटीएम कार्ड से पैसा निकालने वालों से बात करने लग जाता और मदद के बहाने धोखे से कार्ड बदलकर दूसरे एटीएम से पैसा निकाल लेते थे।

अलीगढ़ समेत कई जिलों में हैं मुकदमे

एसपी देहात ने बताया कि आरोपितों ने शहर के बन्नादेवी, सिविल लाइंस के अलावा एटा, कासगंज क्षेत्र में एटीएम कार्ड बदलकर पैसे निकालने की घटना करना स्वीकारा है, जिनके खिलाफ धोखाधड़ी, एनडीपीएस, गैंगस्टर एक्ट के करीब एक दर्जन से अधिक मुकदमे दर्ज हैं। फरार आरोपितों की तलाश की जा रही है। धोखाधड़ी करने में बैंक कर्मियों की संलिप्तता की भी जानकारी जुटाई जा रही है।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Mukesh Chaturvedi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस