अलीगढ़, जेएनएन। सासनीगेट थाना क्षेत्र के सराय मिस्र में सट्टे को लेकर विवाद में हुई युवक की हत्या के मामले में पुलिस ने एक और आरोपित को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया है। आठ माह पहले हुए इस हत्याकांड के चलते इलाके में सप्ताहभर तक तनाव रहा था। पुलिस ने मामले में सात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था।

ऐसे दबोचा बदमाश

27 अक्टूबर 2020 की रात सराय मिस्र गोबर खूंदा मोहल्ले में वाल्मीकि समाज व कोरी समाज के लोग सट्टा खेल रहे थे। इसी दौरान वाल्मीकि समाज के शक्ति व अन्य युवकों का कोरी समाज के शंकर और वीरपाल से झगड़ा हो गया। दोनों में गाली गलौज हुई। तनातनी इतनी बढ़ी कि दूसरे पक्ष के लोगों ने शक्ति की गोली मारकर हत्या कर दी। शक्ति की मौत पर हंगामा शुरू हो गया। गुस्साए लोगों ने आरोपित शंकर के घर में तोडफोड़ कर दी। मकान के बाहर खड़ी स्कूटी में आग लगा दी। पुलिस प्रशासन ने जैसे तैसे हालात काबू किए। इस मामले में पुलिस ने शंकर, वीरपाल, बंटी, श्यामबाबू, राजकुमार, भोला व दीपू के खिलाफ हत्या की धारा में मुकदमा दर्ज किया था। इंस्पेक्टर गोविंद बल्लभ शर्मा ने बताया कि हत्या में वांछित आरोपित सराय मिस्र दुर्गापुरी निवासी भोला उर्फ रवि को भी मथुरा पुल के नीचे से गिरफ्तार कर लिया गया है।