अलीगढ़ (जेएनएन)। मडराक थाना  क्षेत्र के गांव मुकटगढ़ी में शुक्रवार को मामूली बात पर दो पक्षों में लाठी-डंडे चले। पथराव भी हुआ। विवाद इतना बढ़ा कि सिर में फावड़े से प्रहार कर किसान की हत्या कर दी गई। पुलिस ने चार लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा लिखा है। आरोपित फरार हैं। गांव में तनाव देखते हुए शनिवार को भी पुलिस तैनात है।

शाम को हुआ था विवाद

मूलरूप से देहलीगेट क्षेत्र के रोरावर निवासी कालीचरन बघेल 12 साल से मडराक के गांव मुकटगढ़ी में परिवार के साथ रह रहे थे। कालीचरन के परिवार में बेटा मुकेश, बेटी मिथलेश व पत्नी प्रेमवती हैं। गुरुवार शाम को मुकेश गांव से बाइक लेकर निकल रहा था, तभी खेतों में कुछ महिलाएं शौच कर रही थीं। मुकेश की बाइक की लाइट महिलाओं पर पड़ गई। इसी बात पर दोनों पक्षों में देर शाम झगड़ा हो गया।

सुबह फिर भिड़े

गांव के ही लोगों ने झगड़ा शांत करा दिया। शुक्रवार सुबह करीब आठ बजे कालीचरन चबूतरे पर बैठे थे। तभी दूसरे पक्ष के आधा दर्जन लोग लाठी-डंडे लेकर आए। कहासुनी के बाद मारपीट हो गई। पथराव हुआ। दूसरे पक्ष के लोगों ने कालीचरन के सिर पर फावड़े से प्रहार कर दिया। वे गंभीर रूप से घायल हो गए। दूसरे पक्ष से भी दो लोग घायल हुए।

मामला दर्ज कराया

खबर पाकर पहुंची पुलिस घायलों को मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया, जहां कालीचरन (50) की मौत हो गई। एसओ मडराक सुरेश चंद्र ने बताया कि मुकेश की तहरीर पर टीकम, बलराम, दिनेश व बनी सिंह पूर्व प्रधान के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस