संसू, अलीगढ़: अकराबाद थाना क्षेत्र के गोपी से धनौली चिनौली गांव जाने वाले रोड पर बुधवार दिनदहाड़े बाइक सवार तीन लोगों ने मुंबई के एक युवक को गोली मार दी। गोली युवक के गाल को चीरते हुए निकल गई। उसे गंभीर हालत में एएमयू के जेएन मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया है। युवक दो दिन पहले घर से निकला था। अलीगढ़ कैसे और क्यों आया कुछ नहीं पता। पुलिस की जांच में सामने आया है कि युवक को फोन करके किसी ने अकराबाद में बुलाया था।

बुधवार दोपहर करीब 12 बजे गांव धनौली चिनौली के लोगों ने एक ही बाइक पर चार लोगों को भूपालगढ़ी मार्ग पर जाते देखा था। कुछ देर बाद करीब एक किलोमीटर दूर कच्चे चकरोड पर चारों लोग उतरे। तीन लोगों ने एक युवक से मारपीट की और गोली मारकर फरार हो गए। घायलावस्था में युवक किसी तरह नेशनल हाईवे स्थित गांव चांदपुर के पास दुकानों पर पहुंचा। जहां से पुलिस ने उसे जेएन मेडिकल कालेज भिजवाया। सीओ बरला सुमन कनौजिया ने बताया कि युवक ने अपना नाम मुंबई के थाणा जिला के थाना नारपोली के घी मंडी निवासी सौरभ झा बताया। गोली उसके गाल के आर-पार हो गई है। युवक ने बताया है कि करीब तीन महीने से किसी से फोन पर बात कर रहा था। उसी ने फोन करके उसे अकराबाद बुलाया। यहां लाकर गोली मार दी। मामला प्रेम प्रसंग का भी हो सकता है। काल डिटेल के आधार पर आरोपितों की तलाश की जा रही है।

पहले भी भाग चुका है युवक

सौरभ के पिता राजेश कुमार झा ट्रांसपोर्टर हैं। उनके दो बेटे व एक बेटी हैं। बड़ा बेटा सौरभ बेंगलुरु से डी फार्मा कर रहा है। फोन पर हुई बातचीत में राजेश ने दैनिक जागरण को बताया कि सौरभ मानसिक रूप से अस्वस्थ है। वर्ष 2012 में मुंबई के ही एक निजी अस्पताल में उसका इलाज चल रहा है। सौरभ दो दिन पहले घर से निकला था। इससे पहले भी मार्च में चला गया था। तब थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई, लेकिन कुछ दिन बाद वाराणसी में मिल गया। एक बार आगरा चला गया था। कुछ दिन बाद लौट आया। इसीलिए उन्होंने पुलिस को सूचना नहीं दी। बुधवार शाम को अलीगढ़ पुलिस ने फोन करके गोली लगने के बारे में जानकारी दी। राजेश ने बताया कि दिसंबर में बेटी सुमन की शादी हुई थी। मई में पत्नी चंदा झा का कोरोना काल में निधन हो गया था। इससे पूरी तरह टूट चुका है। आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है। वहीं, सौरभ के बार-बार घर से निकल जाने की बात ने उनकी परेशानी बढ़ा दी है।

Edited By: Jagran