जासं, अलीगढ़ : जिले में कोरोना संक्रमित रोगियों की संख्या निरंतर बढ़ रही है। मंगलवार को 229 नए संक्रमित रोगी सामने आए। इसमें दीनदयाल अस्पताल के सेवानिवृत सीएमएस, एक कालेज के प्रंबधक भी शामिल हैं। 209 रोगियों को स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज किया गया। अब सक्रिय रोगियों की संख्या 1504 है। पहली लहर से अब तक जिले में 23,759 रोगी संक्रमित हो चुके हैं व 108 की मृत्यु हो चुकी है।

बेगमबाग निवासी 37 वर्षीय युवक को 16 जनवरी को दीनदयाल कोविड केयर सेंटर में भर्ती किया गया। उसकी रिपोर्ट पाजिटिव थी। 17 जनवरी की रात करीब साढ़े दस बजे युवक की मृत्यु हो गई। स्वास्थ्य विभाग ने मृत्यु का कारण कोरोना संक्रमण को नहीं माना है। युवक का कोविड प्रोटोकाल के तहत दाह-संस्कार किया गया है।

रोजाना नए कंटेनमेंट जोन : जिले में संक्रमित रोगियों की संख्या बढ़ने से रोजाना नए कंटेनमेंट जोन बन रहे हैं, मंगलवार को यह बढ़कर 1287 पहुंच गई। इनमें शहर व देहात के क्षेत्र शामिल हैं। निगरानी समितियों ने 312 घरों का भ्रमण कर संदिग्ध रोगियों को चिह्नित किया। उनकी जांच भी कराई। लक्षण युक्त 247 लोगों को कोविड मेडिकल किट दी गई।

.......

कोविड प्रोटोकाल का

पालन करें : सीएमओ

सीएमओ डा. नीरज त्यागी ने बताया कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए कोविड प्रोटोकाल का पालन बहुत जरूरी है। घर से बाहर निकलने पर मास्क का इस्तेमाल व शारीरिक दूरी का पालन अनिवार्य रूप से किया जाए। कोशिश करें कि भीड़भाड़ वाली जगह पर जाने से परहेज करें। हाथों को सैनिटाइज भी करते रहें। कोरोना से बचाव के लिए कोविड प्रोटोकाल के अलावा टीकाकरण भी बहुत जरूरी है। नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर जाकर पहला, दूसरा या प्रिकाशन डोज जरूर लगवा लें। इन सभी से ही कोरोना के संक्रमण से कुछ हद तक बचा जा सकता है। वैसे टीकाकरण में लोग रुचि ले रहे हैं।

Edited By: Jagran