जागरण संवाददाता, अलीगढ़ : जिले में कोरोना वायरस संक्रमण तेज गति से बढ़ रहा है। हालात दूसरी लहर जैसे हो रहे हैं। सोमवार को नई लहर का रिकार्ड टूटा। कुल 158 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। इनमें 25 पीएसी के जवान, एक एएमयू प्रोफेसर, मेडिकल कालेज स्टाफ के छह लोग व करीब आठ पुलिस कर्मी भी शामिल हैं। वहीं, पांच संक्रमित रोगियों को स्वस्थ होने पर होम आइसोलेशन से डिस्चार्ज कर दिया गया। अब सक्रिय रोगियों की संख्या 610 पहुंच गई है।

यहां मिले संक्रमित : 38वीं वाहिनी पीएसी में 25, अतरौली कोतवाली परिसर में चार, छेरत पुलिस लाइन में पांच, जेएन मेडिकल कालेज स्टाफ के आठ लोग संक्रमित मिले। गोल्डन गेट महेशपुर, सूर सरोवर कालोनी, विजडम हाउस मिटो सर्किल, जनकपुरी, सर सैयद नगर, मेडिकल रोड, रसिक टावर (तीन), चौक गुरु दत्ता अतरौली (दो), विद्यानगर (पांच), गुलमर्ग कालोनी, जमालपुर, सराय गढ़ी सासनी गेट, मुजम्मिल मंजिल, नेहरू कुंज मालीपुर, विक्रम कालोनी, धौर्रा, न्यू राजीव नगर क्वार्सी, लहोसरा-लोधा, नूर मंजिल दोदपुर, आंबेडकर कालोनी नौरंगाबाद, कटरा छपेटी समेत कई इलाकों में रोगी मिले। 289 हुए सक्रिय कंटेनमेंट जोन : कोरोना संक्रमण का दायरा बढ़ते ही जनपद में सक्रिय कंटेनमेंट जोन बढ़ाकर 289 कर दिए गए हैं। सोमवार को चार कंटेनमेंट जोन खत्म किए गए। अब तक 15 कंटेनमेंट जोन समाप्त हुए हैं। संक्रमण रोकने के लिए निगरानी समितियों ने 174 घरों का भ्रमण कर लोगों के स्वास्थ्य की जानकारी ली। लक्षण युक्त 143 व्यक्तियों को मेडिसिन किट दी गई। स्वास्थ्य विभाग की सलाह

- कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु वैक्सीन की दोनों डोज अवश्य लगाएं।

- सर्दी, जुकाम, बुखार या सांस लेने में दिक्कत हो तो कोविड की जांच अवश्य कराएं।

- भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों में जाने से बचें। मास्क का प्रयोग करें ।

- हाथ को साबुन से धोएं या सैनिटाइजर का प्रयोग करें। शारीरिक दूरी का पालन करें।

......

स्वास्थ्यकर्मी व फ्रंटलाइन

वर्कर्स ने ली बूस्टर डोज

जासं, अलीगढ़ : जिले में कोरोना वायरस से बचाव के लिए सोमवार से स्वास्थ्य कर्मियों, फ्रंटलाइन वर्कर्स व 60 वर्ष से आधिक आयु के बुजुर्ग व बीमार व्यक्तियों के लिए प्रिकाशन यानी बूस्टर डोज शुरू हो गई। पहले काफी कर्मचारियों ने उत्साह दिखाया। 15 वर्ष से अधिक आयु के अन्य सभी व्यक्तियों का भी टीकाकरण हुआ। कुल 26 हजार 557 लोगों को टीके लगाए गए। अब तक 38 लाख 89 हजार 32 टीके लगाए जा चुके हैं। महिला अस्पताल में फार्मासिस्ट मनोज यादव, फार्मासिस्ट अनिल तिवारी समेत काफी स्टाफ ने प्रिकाशन डोज ली। वहीं, जिला अस्पताल में स्वयं कार्यवाहक सीएमएस डा. एसके वर्मा ने प्रिकाशन डोज ली।

Edited By: Jagran