आगरा, जागरण संवाददाता। जिस पर ताजनगरी को स्‍वच्‍छ रखने का जिम्‍मा है, वही पर्यावरण को क्षति पहुंचाने का दोषी पाया गया है। स्‍वच्‍छता रैंकिंग में अव्‍वल स्‍थान पाने की चाहत रखने वाले आगरा नगर निगम पर 1.07 करोड़ रुपये का जुर्माना ठोका गया है। यह जुर्माना शहर से निकलने वाले कचरे को ठीक तरह से निस्‍तारित न करने पर लगा है।

उत्तर प्रदेश सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट माॅॅनिटरिंग कमेटी ने गुरुवार को नगर निगम पर पर्यावरण को क्षति पहुंचाने पर 1.07 करोड़ रुपये का जुर्माना किए जाने के आदेश किए हैं। प्रदूषण नियंत्रण कंट्रोल बोर्ड के मुताबिक पिछले माह निरीक्षण को आए जस्टिस डीपी सिंह को कुबेरपुर लैंडफिल साइट पर तमाम खामियां मिली थीं। वहीं एत्मादपुर स्थित प्लांट में बायो मेडिकल वेस्ट के निस्तारण में भी लापरवाही पाई गई। बायो मेडिकल वेस्‍ट के निस्‍तारण के दौरान पर्यावरण को क्षति पहुंचाने पर मैसर्स जेआरआर वेस्ट मैनेजमेंट पर 2.59 करोड़ रुपये का जुर्माना किया गया है। कमेटी ने अपनी रिपोर्ट एनजीटी को भी भेजी है। 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Prateek Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस