आगरा, जेएनएन। गणतंत्र दिवस पर रविवार को आगरा से लॉयन सफारी इटावा जा रही केटीएम पावर राइड रैली के दौरान हादसा हुआ। फर्राटा भरतीं दो बाइक ट्रैक्टर ट्राली से टकरा गईं। इससे दो बाइकर्स की मौत हो गई जबकि दो अन्य घायल हो गए। 

ये बाइक रैली केटीएम के आगरा के सुभाष पार्क स्थित शोरूम से रविवार सुबह आठ बजे रवाना हुई थी। रैली में 28 बाइक थीं। एक-एक बाइक पर दो-दो सवार थे। रेसर बाइक केटीएम का आगरा में मथुरा हाईवे पर शोरूम है। कंपनी की ओर से गणतंत्र दिवस पर रैली के आयोजन के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराए गए थे। आगरा के अलावा फीरोजाबाद में भी इस तरह के मैसेज दिए गए। रविवार दोपहर साढ़े 12.30 बजे सिरसागंज के पास टोडसी गांव के पास दो बाइक आगे चल रही ट्रैक्टर-ट्रॉली से टकरा गईं। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, हादसे के वक्त बाइक की रफ्तार सौ किमी प्रति घंटा से ज्यादा रही होगी।

सिरसागंज पुलिस के मुताबिक, एक बाइक पर फीरोजाबाद के टापाकला निवासी 18 वर्षीय हरेंद्र यादव और शिकोहाबाद निवासी नीरज था, जबकि दूसरी बाइक पर शक्ति पुत्र रामपाल निवासी बसई ताजगंज आगरा अपने भाई विशाल के साथ था। हादसे में हरेंद्र की मौत हो गई, जबकि शक्ति ने अस्पताल ले जाते समय दम तोड़ दिया। दो अन्य घायलों को आगरा रेफर किया गया।

इंस्पेक्टर सिरसागंज सुनील तोमर ने बताया कि आगरा के मृतक के स्वजनों ने पोस्टमार्टम नहीं कराया और न ही कोई लिखित जानकारी दी। हरेंद्र के पिता ने अज्ञात ट्रैक्टर चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है।

हादसे के बाद रैली रोकी, आगरा का था टीम लीडर

मौके पर पहुंचे चौकी इंचार्ज कठफोरी मोहर सिंह ने बताया कि मौके पर मौजूद भूपेंद्र पुत्र रामकुमार निवासी केंद्रीय हिंदी संस्थान रोड आगरा मिला था, उसने खुद को टीम लीडर बताया था। हादसे के बाद आयोजकों ने बाइक रैली सिरसागंज में ही समाप्त कर दी। सभी बाइक सवार लोग फीरोजाबाद पोस्टमार्टम घर पहुंचे। रविवार को ही शव का पोस्टमार्टम करा दिया गया। हरेंद्र के शव का अंतिम संस्कार उनके पैतृक गांव पैढ़त में किया गया।

पुलिस ने रोका दोस्तों का कैंडल मार्च

हरेंद्र अपने दोस्तों में बाइकर्स के नाम से मशहूर था। उसकी मौत की खबर लगने पर दोस्त शोक में डूब गए। उसे श्रद्धांजलि देने के लिए कैंडल मार्च निकालने का प्लान बनाया। सोमवार शाम छह बजे बड़ी संख्या में युवा कैंडल मार्च निकालने के लिए पहुंचे, लेकिन प्रशासन की अनुमति न होने के चलते पुलिस से रोक दिया।

फेसबुक पर लाइव चल रही थी रैली

हाईवे पर हवा की रफ्तार से चल रही हाईस्पीड केटीएम बाइक रैली का फेसबुक पर लाइव चल रहा था। कुछ बाइक पर तिरंगे भी लगे थे। बाइक की रफ्तार देखकर लोग हैरान रह जाते थे। फेसबुक पर लाइव पर हरेंद्र और उसका साथी बगैर हेलमेट के दिखाई दे रहा है। बताया गया है कि बाद में हेलमेट पहने थे।

फ्रेंचाइजी का लेना-देना नहीं

केटीएम के आगरा स्थित शोरूम संचालक और कंपनी के फ्रेंचाइजी जीडी शर्मा ने 'जागरणÓ को बताया कि ये बाइक रैली कंपनी की ओर से आयोजित थी। हमारा इससे लेना देना नहीं है। इसके बाद उन्होंने कॉल डिस्कनेक्ट कर दी।

वाट्सएप पर मैनेजर ने दिए थे संदेश

रैली में प्रतिभागिता के लिए शोरूम की ओर से ऑनलाइन संदेश प्रसारित किए गए थे। शोरूम प्रबंधन की ओर से भी मैसेज भेजे गए थे जिसमें सभी प्रतिभागियों से रविवार सुबह 7 बजे आगरा के सुभाष पार्क स्थित शोरूम पर आने को कहा गया था। संदेश के तहत, बाइक और पेट्रोल की जिम्मेदारी प्रतिभागी को करनी थी जबकि अन्य इंतजाम कंपनी के जिम्मे थे। फीरोजाबाद की सिरसागंज पुलिस को टीम लीडर बताने वाला भूपेंद्र इस शोरूम का मैनेजर बताया जा रहा है। 

Posted By: Prateek Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस