आगरा, जागरण संवाददाता। बैंककर्मियों की देश व्यापी हड़ताल के चलते आगरा में भी सभी सरकारी बैंकों में शुक्रवार को ताले लटके रहे। बैंक कर्मियों ने संजय प्लेस स्थित केनरा बैंक शाखा के बाहर धरना-प्रदर्शन कर विरोध जताया। हड़ताल के पहले दिन करीब 150 करोड़ का कारोबार प्रभावित रहा।

विभिन्न मांगों को लेकर बैंक कर्मचारी दो दिन की हड़ताल पर हैं। हड़ताल के पहले दिन सभी बैंक अधिकारी-कर्मचारी सुबह 10 बजे संजय प्लेस में एकत्रित हुए। यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस के तहत सभी कर्मचारियों ने केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी कर आक्रोश जताया। एआइबीईए के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एमएम रॉय ने कहा कि बैंक कर्मचारियों का वेतन समझौता और सर्विस कंडीशन नवंबर 2017 से लंबित है, जिसकी 40 से ज्यादा चरणों की बातचीत के बाद भी अभी तक कोई सकारात्मक नतीजा नहीं निकला है। उन्होंने कहा कि शनिवार को भी बैंकों में हड़ताल रहेगी। अगर उनकी मांगें नहीं मानी गईं तो 11 से 13 मार्च को तीन दिवसीय हड़ताल फिर होगी। उसके बाद एक अप्रैल से अनिश्चितकालीन हड़ताल की तैयारी है। धरने में एआइबीईए, एआइबीओसी, एनसीबीई, एआइबीओए, बीईएफआइ, आइएनबीएफआइ, एनओबीओ, एनओबीडब्ल्यू आदि संगठन शामिल रहे। अशोक सारस्वत, अमरदीप कौशिक, एचएन चतुर्वेदी, अंकित सहगल, शैलेंद्र झा, वकील अली, पुनीत कुमार, कुलविंदर सिंह, विनोद यादव, मनीष शर्मा, सौरभ शर्मा सहित सैकड़ों कर्मचारी उपस्थित रहे।

400 से ज्यादा शाखाओं में लटके ताले

सभी अधिकारी-कर्मचारियों के हड़ताल पर रहने के कारण जिले की एसबीआइ, बैंक ऑफ इंडिया, केनरा बैंक, यूनियन बैंक, पीएनबी, सिंडिकेट, इलाहाबाद बैंक, सेंट्रल बैंक, ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स आदि बैंक की 400 से ज्यादा शाखाओं में ताले लटके रहे। करीब साढ़े तीन हजार कर्मचारी हड़ताल पर रहे।

150 करोड़ का लेनदेन प्रभावित

बैंकों में काम न होने के चलते शुक्रवार को कारोबार पर भी प्रभाव पड़ा। नगद लेन-देन, आरटीजीएस, नेफ्ट, चेक क्लीयङ्क्षरग नहीं हो सकी। इससे करीब 150 करोड़ का कारोबार प्रभावित रहा। शनिवार को भी हड़ताल रहेगी, इसके बाद रविवार का अवकाश है। इससे लोगों की परेशानी और बढ़ेगी।

एटीएम हुए शाम तक खाली

हड़ताल के चलते एटीएम पर दवाब बढ़ गया। नकदी निकालने के लिए एटीएम पर लाइन लगी रही। संजय प्लेस, कमला नगर, सदर, आवास-विकास, जयपुर हाउस आदि इलाकों में शाम तक ज्यादातर एटीएम में नकदी खत्म हो गई। जिन बैंकों में ही एटीएम लगे हैं, उनके भी शटर बंद रहने से परेशानी और बढ़ गई। दो दिन और बैंक बंद होने से नकदी का संकट और रहेगा।

 

Posted By: Prateek Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस