आगरा, जेएनएन। ब्रजमंडल में गुरुवार, 17 अक्‍टूबर 2019 की शाम तक के प्रमुख समाचारों पर आइए डालतेे हैं एक नजर-

सैनिक के परिजनों ने एक्‍सप्रेस वे पर लगाया जाम

अरुणाचल प्रदेश में तैनात राजपूताना रेजीमेंट के जवान जीतू सिंह की सड़क हादसे में मृत्‍यु हो जाने के बाद परिजनों और ग्रामीणों ने गुरुवार सुबह यमुना एक्‍सप्रेसवे पर कब्‍जा कर लिया। मथुरा के थाना मांट क्षेत्र में ग्रामीण एक्‍सप्रेसवे पर चढ़ गए और दोनों तरफ का यातायात ठप कर दिया। उन्‍होंने सर्विस रोड पर भी वाहनों की आवाजाही बंद करा दी। ग्रामीणों की मांग थी कि अंतिम संस्‍कार के लिए भूमि उपलब्‍ध कराई जाए और प्रशासनिक अधिकारी अंतिम संस्‍कार में शामिल हों। लगभग तीन घंटे के जाम के बाद पुलिस ने हल्‍का बल प्रयोग कर एक्‍सप्रेसवे पर यातायात सुचारू कराया।

वेतन मांग रहे कर्मचारियों पर चलीं गोलियां

आगरा के रुनकता क्षेत्र में आरसीसी ईको फ्रेंडली प्रा.लि. के कर्मचारियों ने बकाया वेतन मांगने के लिए आवाज उठाई तो फैक्‍ट्री के सिक्‍योरिटी इंचार्ज ने गोलियां चला दीं। इससे एक कर्मचारी मेघश्‍याम के हाथ में गोली लगी। घायल कर्मचारी को अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है। कर्मचारियों ने आरोप लगाया है कि फैक्‍ट्री प्रबंधन ने दो माह से वेतन नहीं दिया है। प्रदर्शन कर रहे कर्मचारियों की सिक्‍योरिटी इंचार्ज मनोज दीक्षित से कहासुनी हो गई। रिपोर्ट दर्ज होने के बाद पुलिस ने मनोज दीक्षित को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

सांड़ ने ली किसान की जान

बेसहारा पशुओं के आतंक से लोग परेशान है। शहर में सड़कों पर हादसे हो रहे हैं और गांवों में पशु खेतों में कहर बरपा रहे हैं। कासगंज में खेत से बाजरा काटने गए 50 वर्षीय किसान पर उग्र हुए सांड़ ने हमला बोल दिया। सांड़ ने कई बार किसान को उठाकर जमीन पर पटका। आसपास से ग्रामीण बचाने आए लेकिन सांड़ तब तक हमलावर रहा, जब तक किसान अधमरा न हो गया। उपचार के लिए अस्‍पताल में ले जाया गया लेकिन डॉक्‍टरों ने हालत गंभीर देख प्राथमिक उपचार कर छुट्टी दे दी। परिजन किसान को घर ले आए, जहां उसने दम तोड़ दिया।  

Posted By: Prateek Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप