आगरा(जेएनएन): विहिप से अलग होकर अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद खड़ी करने वाले ¨हदूवादी नेता प्रवीण तोगड़िया अक्टूबर में लखनऊ से अयोध्या के लिए कूच करेंगे। उनका दावा है कि भाजपा में हिम्मत नहीं है कि वह राममंदिर के लिए कूच करे। राममंदिर के लिए कोर्ट को याद करने वाली भाजपा सरकार अन्य मुद्दों पर संसद में कानून बना रही है।

प्रखर ¨हदुत्व की पहचान बना चुके तोगड़िया अंतरराष्ट्रीय ¨हदू परिषद के मथुरा में चल रहे पहले अभ्यास वर्ग में भाग लेने आए। ¨हदुत्व में किसान और बेरोजगारी के मुद्दों को जोड़कर संगठन खड़ा करने वाले तोगड़िया ने कहा कि मोदी सरकार को न तो राम की ¨चता है और न ही कार्यकर्ता की फिक्र। पेट्रोल पर 35 से 43 फीसदी टैक्स लगा चार साल में आम जनता का 10 लाख करोड़ रुपये इस सरकार ने लूटा है। छत्तीसगढ़ जगदलपुर से 10 सितंबर को किसानों की आय के मुद्दे को लेकर मार्च निकाला जाएगा। यह मार्च 300 किलोमीटर चलकर रायपुर पहुंचेगा। 21 अक्टूबर को लखनऊ से अयोध्या तक कूच करेंगे।

एक लाख ¨हदू ही आगे केंद्र: परिषद का नारा ¨हदू ही आगे यानी समृद्ध ¨हदू का है। संगठन के दो माह में ही साढ़े पांच सौ पूर्णकालिक कार्यकर्ता बन चुके हैं। एक हजार पूर्णकालिक के साथ देश में एक लाख ¨हदू ही आगे केंद्र खोले जाएंगे। एक पूर्णकालिक को सौ केंद्र की जिम्मेदारी दी जाएगी। न बी, न सी कोई ए की बारी: तोगड़िया की आगे की राजनीति 'बी' यानी भाजपा और 'सी' यानी कांग्रेस को छोड़कर किसी 'ए' के साथ जाने की है। एससी- एसटी एक्ट के सवाल को बड़ी सफाई के साथ काटते उनका कहना है कि वह सबकी बराबरी के हिमायती हैं।

Posted By: Jagran