आगरा, जागरण संवाददाता। डा. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय की मुख्य परीक्षा में शनिवार को प्रथम पाली में 338 , द्वितीय पाली में 334 , और तृतीय पाली में 237 परीक्षा केंद्रों पर कुल मिलाकर 75,490 छात्र परीक्षा दे रहे हैं। आठ जिलों में 13 सचल दल भेजे गए हैं। जिन तीन महाविद्यालयों के परीक्षा केंद्र बदले गए थे, वहां विश्वविद्यालय के सचल दल पहुंच चुके हैं। तीनों पालियों की परीक्षा सचल दलों की निगरानी में कराई जा रही है। परीक्षा नियंत्रक द्वारा परीक्षा केंद्र बदले जाने संबंधी आदेश तीनों कालेजों के प्राचार्यों को व्यक्तिगत रूप से हस्तगत करा दिए गए हैं। आदेश की प्रति इन कालेजों के लागइन आइडी पर भी डाल दी गई थी।

व्यक्तिगत रूप से दे रहे जानकारी

परीक्षा केंद्र बदले जाने वाले कालेजों में सचल दल सभी परीक्षार्थियों को व्यक्तिगत रूप से भी अवगत करा रहे हैं कि उनकी दो अगस्त को होने वाली परीक्षा बदले हुए केंद्र पर होगी। यह सुनिश्चित किया जाएगा कि तीनों पालियों में सभी परीक्षार्थियों को अपने नए परीक्षा केंद्र के बारे में जानकारी मिल जाए। ऐसे परीक्षा केंद्र, जिन्हें शुक्रवार को चेतावनी पत्र जारी किया गया था, वहां भी सचल दल पहुंच चुके हैं और अपनी निगरानी में परीक्षाएं करा रहे हैं।

चल रहा विशेष सचल दल भी

विश्वविद्यालय द्वारा भेजे जाने वाले नियमित सचल दलों के अतिरिक्त परीक्षा नियंत्रक अजय कृष्ण यादव का विशेष सचल दल भी लगातार केंद्रों का औचक निरीक्षण कर रहा है। आज परीक्षा नियंत्रक द्वारा किए गए निरीक्षण में उनके साथ सचल दल प्रभारी प्रोफेसर मनोज श्रीवास्तव , सहायक कुलसचिव अजय कुमार गौतम और कैलाश बिंद उपस्थित थे। इस विशेष सचल दल द्वारा आज प्रथम पाली में एसडी कालेज , भदावर , छलेसर ,डीवीएस कालेज, मुड़ी , खंदौली और सीएसएम पीजी कालेज ,एत्मादपुर आगरा का निरीक्षण किया गया।

रहेगी कड़ी नजर

कुलपति प्रो. आलोक कुमार राय ने परीक्षा नियंत्रक को निर्देश दिए हैं कि जिन परीक्षा केंद्रों पर मानक के अनुरूप कमियां पाई जा रही हैं , उनको तत्काल चेतावनी पत्र जारी किया जाए। अगली परीक्षा में पुनः इन केंद्रों का निरीक्षण किया जाए और यदि केंद्र निर्धारण के सभी मानक पूर्ण नहीं किए जाते हैं , तो इनके विरुद्ध नियमानुसार कार्रवाई की जाए ।

Edited By: Prateek Gupta