आगरा, जागरण संवाददाता। मानसून चिलचिलाती गर्मी के बाद राहत का अहसास करवाता है। लेकिन साथ में ही ये मौसम ढेर सारी मौसमी बीमारी और संक्रमण को भी साथ लेकर आता है। जिसका सीधा असर चेहरे और शरीर पर पड़ता है। मानसून में शरीर के साथ ही चेहरे और बालों को अधिक ध्यान देने की जरुरत होती है। बारिश के मौसम में हवा में अत्यधिक नमी हो जाती है, जिसकी वजह से चेहरे को बार-बार साफ करने की जरूरत महसूस होती है। इस मौसम में अक्सर ही हवा, वातावरण, परिवेश, खान-पान सभी संक्रमित हो जाते हैं। विशेष कर त्वचा में संक्रमण होने पर महिलायों और पुरुष दोनों को बहुत परेशानी झेलनी पड़ती है। अगर आपकी त्वचा स्वभाविक रूप से ही तेलीय है तो, मानसून के दिनों में आपको इसका खास ख्याल रखना चाहिए। त्वचा को स्वस्थ रखने के लिए आइए जानते है कैसा होना चाहिए मानसून स्किन केयर...

एलोवेरा का करें इस्तेमाल

ब्यूटी एक्सपर्ट शैलजा तनेजा के मुताबिक बारिश के मौसम में चेहरे पर खुजली की समस्या भी देखी जाती है। इस समस्या से बचने के लिए आप कुछ घरेलू उपायों से इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। त्वचा के लिए एलोवेरा बहुत फायदेमंद होता है। कुछ महिलाओं की स्किन बहुत ही ज्यादा सेंसटिव होती है और ब्लीच करने के बाद उन्हें खुजली और जलन की समस्या से झूझना पड़ता है। ऐलोवेरा में मौजूद कूलिंग एजेंट आपके चेहरे की जलन और खुजली की समस्या को खत्म कर आपको निजात दिला सकते हैं।

चेहरे और बालों की नमी का रखें ध्यान

हेयर एक्सपर्ट यूसुफ अली के मुताबिक इस मौसम में ज्यादा नमी के वजह से बालों की जड़ों में पसीने की समस्या हो सकती है, इसलएि हफ्ते में कम से कम दो बार शैम्पू और कंडीशनर जरुर करें। इस मौसम में इंफेक्शन का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए अपने बालों और त्वचा को अधिक देर तक गीला न रहने दें क्योंकि ऐसा करने से फंगल इन्फेक्शन हो सकता है।

घरेलू फेसपैक का करें इस्तेमाल

मानसून में खासतौर केमिकल ट्रीटमेंट लेने से बचना चाहिए। इस मौसम में चेहरा अत्यधिक तेलीय हो जाता है। ऐसे में बेसन या मुल्तानी मिट्टी के फेस-पैक का इस्तेमाल कर सकते है। ये फेसपैक चेहरे से गंदगी को निकाल कर तरोताजा बनाने में मदद करता है।

कम मेकअप करें

मानसून में मेकअप का इस्तेमाल कम करें। अधिक मेकअप की वजह से त्वचा सांस नहीं ले सकती और त्वचा पर अधिक ऑयल जमा होने लगता है। इससे मुहासे और फुंसी निकलने की समस्या हो सकती है।

हाइड्रेटेड रहें

मानसून में शरीर से पसीने के माध्यम से तरल-पदार्थ को बाहर निकल जाते हैं। इसलिए, जितना हो सके सादा पानी पीएं और नींबू-पानी, नारियल का पानी, ताजे फलों के रस का भी सेवन करें। यह आपकी त्वचा हाइड्रेटेड और चमकदार रखेगी। इसके अलावा मानसून के दिनों में गरम पानी का सेवन करना चाहिए। गुनगुने पानी की तुलना में गर्म पानी त्वचा से तेल और टॉक्सिन को बेहतर तरीके से खत्म कर देता है।

इन बातों का रखें ध्यान

-बारिश के दिनों में हैवी ऑयल्स जैसे कि नारियल का तेल नहीं लगाना चाहिए। नॉन- स्टिकी एसेंशियल ऑयल्स जैसे कि टीट्री ऑयल का इस्तेमाल कर सकते हैं।

- अगर आपकी स्किन बहुत सेंसेटिव है तो आर्टिफिशियल ज्वेलरी पहनने से बचें। हवा में नमी की वजह से आपको इंफेक्शन होने का खतरा हो सकता है।

- बारिश के दिनों में दिन में तकरीबन दो-तीन बार हल्का क्लींजर इस्तेमाल करना चाहिए ताकि स्किन के छिद्र बंद न हों।

- नैचुरल टोनर्स का इस्तेमाल करें, जैसे कि ग्रीन टी, नींबू और खीरा। 

Posted By: Prateek Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस