आगरा, जेएनएन। अयोध्‍या फैसले के चलते सरकार ने प्रदेश के सभी स्कूल, कालेज, शिक्षण संस्थान और प्रशिक्षण केंद्रों को 9 से 11 नवंबर तक बंद रखने का आदेश जारी किया है। आगरा मंडल के सभी जिलों में शिक्षण संस्‍थानों को बंद रखने के आदेश हो गए हैं। अतिसंवेदनशील जिलों में आने वाले आगरा और मथुरा में अतिरिक्ति पुलिस फोर्स तैनात कर दिया गया है। आम दिनों में इतनी दिन का अवकाश मिलने पर लोग बाहर घूूूूूमने जाने का प्‍लान बना लेते हैं लेकिन मामला संवेदनशील होने के चलते लोग घर में रहना ज्‍यादा सही समझ रहे हैं।

आगरा में डीजीपी ओपी सिंह ने शुक्रवार को अधिकारियों के साथ बैठक कर सुरक्षा व्‍यवस्‍था का जायजा लिया था। आगरा में ताजमहल और मथुरा में जन्‍मभूमि के कारण दोनों ही ि‍जिले संवेदनशील हैं। इस‍के चलते यहां अतिरिक्‍त सुरक्षा व्‍यवस्‍था बढ़ा दी गई है। मैनपुरी के डीएम पीके उपाध्याय ने बताया कि फैसले के मद्देनजर पूरी सतर्कता बरती जा रही है। सुरक्षा योजना के तहत ड्यूटी लगाई गई हैं। मिश्रित आबादी वाले क्षेत्रों में विशेष इंतजाम किए गए है। एहतियात के तौर पर शनिवार और सोमवार को जिले के सभी स्कूल- कॉलेज बंद रहेंगे। बीच मे रविवार को सार्वजनिक अवकाश है। एटा जिला प्रशासन ने शुक्रवार से शांति व्यवस्था के लिए कवायद तेज कर दी। डीएम सुखलाल भारती और एसएसपी सुनील कुमार सिंह ने देर शाम को पुलिस लाइन में बैठक कर लोगों से अमन चैन की अपील की। वहीं शहर भर में पुलिस फोर्स के साथ फ्लैग मार्च किया। डीएम ने बताया फैसले के मद्देनजर सुरक्षा व्यवस्था की पूरी तैयारियां कर ली गई हैं। किसी को भी कानून और शांति व्यवस्था से किसी भी तरह का खिलवाड़ नहीं करने दिया जाएगा। पूरे जिले में धारा 144 लागू है। एसएसपी ने बताया कि फैसले के दृष्टिगत पुलिस की सक्रियता बढ़ा दी गई है। जिले से बाहर जाने आने वालों पर कड़ी नजर रखी जा रही है। संदिग्ध लोगों की चेकिंग भी कराई जा रही है। फीरोजाबाद में भी एलर्ट जारी कर दिया गया है। खुफिया मंत्र सक्रिए है।

बंद हो  सकती हैं इंटरनेट सेवाएं

शुक्रवार को आगरा आए डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि पूरा प्रदेश हाई अलर्ट पर है। किसी भी स्थिति में दंगा भड़काने वालों के मंसूबे कामयाब नहीं होने दिए जाएंगे। सोशल मीडिया के माध्‍यम से भ्रामक जानकारी फैलाई जा सकती है। इसे देखते हुए फैसले के समय संभवत: इंटरनेट सेवाएं बंद की जा सकती हैं।  

सोशल मीिडया पर कर रहे लोग शांति की अपील

अयोध्‍या फैसले को लेकर सोशल मीडिया पर भी खासी चर्चा का दौर शुरु हो चुका है। जैसे ही समाचार चैनलों से फैसला शनिवार को आने की जानकारी मिली लोग शांति की अपील के मैसेज फॉरवर्ड करने लग गए हैं। तमाम गु्रप पर चर्चा चल रही है कि फैसला कुछ भी आए लोग उसका सम्‍मान करें। देश की सर्वोच्‍च अदालत पर भरोसा बनाए रखें। 

 

Posted By: Prateek Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप