आगरा, जागरण संवाददाता। दीपावली से पहले खाकी वालों पर डेंगू कहर बरपा रहा है। अब तक जिले में 23 पुलिसकर्मियों में डेंगू की पुष्टि हो चुकी है। एक सिपाही की जान भी जा चुकी है, वहीं मथुरा की रहने वाली लेडी कांस्‍टेबल प्रेमलता ने भी आगरा में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया था। त्योहार पर पुलिसकर्मियों की पहले से ही कमी चल रही थी। अब डेंगू के कारण पुलिसकर्मियों के छुट्टी पर जाने से और मुश्किल हो रही है। ऐसे में एसएसपी मुनिराज जी. ने डेंगू से बचाव को खास निर्देश दिए हैं।

एसएसपी मुनिराज जी ने बताया कि डेंगू पुलिसकर्मियों को भी चपेट में ले रहा है। इन दिनों पुलिसकर्मियों की छुट्टी पर रोक है। विशेष परिस्थिति में बीमारी के कारण पुलिसकर्मियों की छुट्टियां उनके द्वारा स्वीकृत की जा रही हैं। लगभग 23 पुलिस कर्मियों को डेंगू हुआ है। ये सभी छुट्टी पर हैं। इनमें से कुछ उपचार के बाद ठीक हो चुके हैं। जबकि कुछ अभी हास्पिटल में भर्ती हैं। कुछ पुलिसकर्मियों के स्वजन भी डेंगू की चपेट में आए हैं। उनकी देखरेख के लिए पुलिसकर्मियों ने छुट्टी ली है। बीमार हुए पुलिसकर्मियों के स्वास्थ्य की प्रतिदिन जानकारी ली जा रही है। थाने-चौकियों और बैरक में विशेष सफाई रखने के निर्देश दिए गए हैं। फागिंग कराई जा रही है। रिजर्व पुलिस लाइंस की बैरकों में भी फागिंग कराई गई है।

बैरकों में लगाई जा रहीं मच्छरदानी

डेंगू ने पुलिसकर्मियों को भी डरा दिया है। बैरकों में पुलिसकर्मी मच्छरदानी लगाकर सो रहे हैं। सफाई का विशेष ध्यान रखा जा रहा है। थाने-चौकियों में मुकदमों से संबंधित वाहन वर्षों से खड़े हैं। उनमें भी मच्छर रहते हैं। वहां भी अब सफाई कराई जा रही है। अपने स्तर से पुलिस कर्मी बचाव के सभी तरीके अपना रहे हैं।

Edited By: Prateek Gupta