आगरा, जेएनएन। गोवंश की मदर टेरेसा के नाम से विख्यात जर्मन गो भक्त ईरिन फ्रेडरिक ब्रुनिंग उर्फ सुदेवी दासी ने सोमवार को एसएसपी, मथुरा की अनुपस्थिति में एसपी ट्रैफिक कमल किशोर से मुलाकात की। आरोप लगाया कि राधा कुंड में वह निराश्रित गोवंश के लिए सुरभि गोशाला चलाती हैं। खुद को गोशाला की जमीन का मालिक बताने वाले दो लोग उन्हें जमीन खाली करने के लिए जान से मारने की धमकी दे रहे हैं।

एसपी ट्रैफिक ने मामले में जांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिया है। सुदेवी वर्तमान में करीब 2500 गोवंश की सेवा कर रही हैं ।।भारत सरकार की ओर से उन्हें 2 साल पहले पदम श्री भी मिला था। सुदेवी ने बताया कि जिस जमीन पर वह गोशाला चला रही हैं वह उन्होंने ट्रस्टी हरि ओम से किराए पर ली थी। हरिओम की मृत्यु के बाद उनके बेटे गिरधारी और संजय जमीन खाली करने का दबाव बना रहे हैं। 

बता दें कि 36 वर्ष पहले यहां भ्रमण को आईं जर्मन माता-पिता की इकलौती संतान फ्रेडरिक इरिन ब्रूनिग 25 सौ गोवंश की 'मदर टेरेसा' बनकर सेवा कर रही हैं। भारतीय संस्कृति से प्रभावित इस गोभक्त का नाम पहनावा और भाषा सब भारतीय हो गए हैं। सेवा के इस सफर के कारण इस जर्मन महिला को भारत सरकार ने पद्मश्री सम्मान से सम्मानित किया था।

सुदेवी दासी ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस उनकी सुनवाई नहीं कर रही है। उन्होंने इंटरनेट मीडिया पर गोभक्तों से सहयोग की अपील की है। थाना प्रभारी प्रदीप कुमार ने बताया कि वह उनसे मिलकर सुरक्षा का आश्वासन दे चुके हैं। उन्होंने गोशाला की जमीन का विवाद बताया है। उनसे तहरीर देने की बात कही है, तहरीर मिलने पर जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Tanu Gupta