आगरा, जागरण संवाददाता। दो दिन की साप्ताहिक बंदी से पहले शुक्रवार का बाजारों में भीड़ रही। लोगों ने दो दिन के हिसाब से राशन व अन्य जरूरी सामान की खरीदारी की। वहीं, बाजारों में उमड़ी भीड़ में कोविड गाइडलाइन की जमकर अनदेखी हो रही है। शारीरिक दूरी का तो कहीं पालन नहीं हो रहा है। अनलाक होने के बाद प्रदेश सरकार ने शनिवार और रविवार साप्ताहिक बंदी लागू कर दी है। ऐसे में शुक्रवार को बाजारों में भीड़ रही। प्रमुख बाजार मोतीगंज, दरेसी, रावतपाड़ा, बेलनगंज, शाहगंज, लोहामंडी में दोपहर में होने वाली भीड़ से बचने के लिए लोग बाजार खुलते ही पहुंचने लगे। मोतीगंज के थोक व्यापारी मोहित ने बताया कि बाजार खुलते ही ग्राहकों का आना शुरू हो गया। शाम तक ग्राहक आते रहे। दाल, चावल, चीनी, मसाले लेने वालों की संख्या ज्यादा रही। थोक बाजार के अलावा कालोनियों के बाजारों में भी किराने की दुकानों पर भीड़ रही। शाम को बाजार के साथ सब्जी मंडी में भी भीड़ रही। लोगों ने दो दिन के हिसाब से फल व सब्जी की खरीदारी की। बाजार बंदी में इमरजेंसी सेवाएं जारी रहेंगी। शराब, डेयरी और मेडिकल की दुकानें खुली रहेंगी। सब्जी मंडी बंद रहने की वजह से सब्जीवाले भी कम ही आएंगे। 

नहीं हुआ शारीरिक दूरी का पालन

बाजार में शुक्रवार को भीड़ रही। भीड़ में कोविड गाइडलाइन का पालन नहीं हुआ। शाहगंज में दोपहर तीन बजे बहुत से ऐसे लोग थे जो बिना मास्क के ही बाजार में घूम रहे थे। कुछ लोगों के मास्क नाक और मुंह से नीचे थे। शारीरिक दूरी का तो कहीं पालन नहीं हो रहा था। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप