आगरा,

जागरण संवाददाता। कुबेरपुर स्थित खत्ताघर में लगने वाले वेस्ट टू एनर्जी प्लांट के लिए अनापत्ति प्रमाण पत्र (एनओसी) लेने की तैयारी शुरू हो गई है। स्पाक ब्रेसान कंपनी को ताज ट्रिपेजियम जोन (टीटीजेड) प्राधिकरण, भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआइ), उप्र प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड सहित अन्य विभागों से एनओसी लेनी होगी। कंपनी 175 करोड़ रुपये से 14 माह के भीतर प्लांट लगाएगी। हर दिन 500 टन कूड़े से दस मेगावाट बिजली बनेगी। प्लांट की अधिकतम क्षमता 15 मेगावाट की होगी, इसके लिए हर दिन 850 टन कूड़े की जरूरत पड़ेगी।

सुप्रीम कोर्ट ने वेस्ट टू एनर्जी प्लांट को अनुमति दे दी है। इससे प्लांट लगने का रास्ता साफ हो गया है। सप्ताह भर के भीतर स्पाक ब्रेसान की टीम आगरा आ रही है। नगर निगम और कंपनी के अफसरों की संयुक्त टीम कुबेरपुर के खत्ताघर का निरीक्षण करेगी। निगम सभागार में बैठक होगी। नगरायुक्त निखिल टीकाराम ने बताया कि कंपनी के अफसरों को एनओसी के आवेदन के लिए कहा गया है। खत्ताघर में पड़ा है दो लाख टन कूड़ा : खत्ताघर कुबेरपुर का रकबा 72 एकड़ है। दो लाख टन कूड़ा पड़ा है। निजी कंपनी द्वारा कूड़े को प्रोसेस किया जा रहा है। शहीद नगर रोड पर दो निर्माण ध्वस्त: नगर निगम की टीम ने गुरुवार दोपहर शहीद नगर रोड पर राजेश्वर फिलिग स्टेशन के आसपास अतिक्रमण विरोधी अभियान चलाया। तीन घंटे तक चले अभियान में दो निर्माणों को ध्वस्त किया गया। भवन स्वामियों ने रोड पर अतिक्रमण कर निर्माण किया था। वहीं शांति कुंज अर्जुन नगर में एक क्षेत्रीय निवासी ने पार्क में मलबा डाल दिया था। मलबे को उठवाने की चेतावनी दी गई। निगम की टीम ने भगवान टाकीज चौराहा से प्रतापपुरा चौराहा तक तीसरे दिन भी अभियान चलाया। 17 ठेल विक्रेताओं को हटाया गया। टीम में कर्नल एके सिंह, अशोक कुमार शामिल रहे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप