आगरा, जागरण संवाददाता। उप्र बार कौंसिल अध्यक्ष दरवेश सिंह के हत्यारोपित मनीष शर्मा की हालत गंभीर है। सात दिन से वह वेंटीलेटर पर है। अभी तक उसकी आंखें भी नहीं खुली हैं। 

उप्र बार कौंसिल अध्यक्ष दरवेश सिंह की 12 जून को दोपहर दीवानी में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इसके बाद हत्यारोपित मनीष ने खुद को गोली मार ली। सिर में लगकर गोली दूसरी ओर पार हो गई। गंभीर हालत में मनीष को घटना वाले दिन ही गुरुग्राम स्थित मेदांता मेडिसिटी रेफर कर दिया था। वहां सात दिन से वह वेंटीलेटर पर है। किडनी में इन्फेक्शन हो गया है। पल्‍स रेट भी ठीक नहीं है।

पुलिस अभिरक्षा में उसका इलाज चल रहा है। पिता रमेश बाबू शर्मा का कहना है कि अब तक इलाज में आठ लाख रुपये खर्च हो गए। अब उनके सामने आर्थिक संकट है। वे इसीलिए एम्स या जयपुर में इलाज को ले जाना चाहते हैं। मगर, वहां वेंटीलेटर खाली नहीं हैं। ऐसे में अब अन्य किसी बड़े सरकारी अस्पताल में मनीष को ले जाने की तैयारी कर रहे हैं।

बयान देने नहीं आया इंस्पेक्टर

उप्र बार कौंसिल अध्यक्ष की हत्या के समय मैनपुरी में तैनात इंस्पेक्टर सतीश यादव मौके पर थे। न्यू आगरा पुलिस ने पहले उन्हें पत्र भेजा। इसके बाद सीआरपीसी की धारा 160 के तहत नोटिस भेजा था। मगर, इसके बाद भी इंस्पेक्टर अभी तक बयान दर्ज कराने थाने नहीं आए।

 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Prateek Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप