जागरण संवाददाता, आगरा: महाशिवरात्रि पर्व की मंगलवार को धूम रही। शहर में भोले बाबा की बारात निकाली गई। हालांकि दो दिन चतुर्दशी पड़ने के कारण श्रद्धालु बुधवार को भी जलाभिषेक करेंगे और व्रत रखेंगे। फाल्गुन मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को महाशिवरात्रि का पर्व मनाया जाता है। मंगलवार को श्रद्धालुओं ने व्रत रखाकर देवाधिदेव की आराधना की। शिव मंदिरों में सुबह से जलाभिषेक और रुद्राभिषेक का सिलसिला चलता रहा। मनकामेश्वर नाथ महादेव मंदिर के महंत योगेश पुरी ने बताया भगवान की पांच पूजाएं राजोपचार से संपन्न कराई गईं। पहली पूजा में भगवान की बारात का दर्शन, दूसरी में हिमाचल में बरात का द्वार पूजन, रात्रि दो बजे भयंकर स्वरुप, बुधवार सुबह पांच बजे दूल्हा झांकी के दर्शन और छह बजे विदा की झांकी निकाली जाएगी। व्रत, पूजन, रुद्राभिषेक और रात्रि जागरण की मंगलवार को ही महत्ता होने के कारण मंदिर में इसी दिन यह कार्यक्रम हुए। सोमनाथ धाम में रुद्रमहायज्ञ शाहगंज स्थित सोमनाथ धाम पर सात फरवरी से चल रहे रुद्रमहायज्ञ का मंगलवार को समापन हो गया। मठाधीश पीर डॉ. शंकरनाथ योगी के सानिध्य में महायज्ञ के साथ रुद्राभिषेक, शिवपुराण पाठ, पूर्णाहूति व भंडारा हुआ। हेमंत भोजवानी ने बताया कि यज्ञ आचार्य प्रदीप पंडित, सुभाष शास्त्री, मुन्ना गुर आदि ने मंत्रोच्चारण के बीच इन्हें संपन्न कराया। योगी जहाजनाथ, योगी रुद्रनाथ, विश्वना, मनीषनाथ ने भगवान भोलेनाथ के भजन गाए। भरत मंगलानी, टीकम लालवानी, जगदीश तोरानी, मोहनलाल वासदेव, श्याम लाल, विनोद कलवानी, जयकिशन, चंद्रप्रकाश, राजेश धनकानी, राहुल, लोकेश मौजूद रहे। पंचवटी कॉलोनी में निकाली बरात ताजनगरी स्थित पा‌र्श्वनाथ पंचवटी कालोनी में मंगलवार को शिवजी की बरात बैंडबाजों के साथ निकाली गई। राधाकृष्ण मंदिर प्रागण से निकली बरात में शुक्र, शनि, नंदी, ब्रह्मा, विष्णु, शुक्राचार्य, नौ ग्रह के स्वरुपों की झांकियां शामिल रहीं। बरात का जगह-जगह स्वागत किया। बरात के दरवाजे पर पहुंचते ही सखियों ने स्वागत गीत गाए। महिला मंडली ने राधाकृष्ण मंदिर पर फूल बंगला सजाया। पंडित गिरीश उपाध्याय ने रुद्राभिषेक करा शिवजी की लीला का वर्णन किया। इस दौरान श्याम भोजवानी, रघुवीर चाहर, सतीश पिपलानी, कर्नल दत्ता, आरआरपी सिन्हा, सुमन चाहर, उमा सिंह, मंजू, सुनीता, शिखा, स्वाती, जूली, संजू, ममता, भारती, अंशु, कविता, कौशल्या, प्रियंका आदि मौजूद रहीं। बरात लेकर निकले महादेव आगरा: मंगलवार को महाशिवरात्रि पर बल्केश्वर महादेव की बरात निकाली गई। बरात शाम चार बजे कमला नगर होटल पार्क लेन के पास से शुरु हुई, जो टंकी रोड, शांति स्वीट्स, बल्केश्वर चौराहा, बल्देव धर्मशाला होते हुए बल्केश्वर महादेव मंदिर पहुंची। बरात की शोभा 55 झांकियां बढ़ा रहीं थी, जिनमें शिवजी, राधाकृष्ण, समाज सुधार की झांकी प्रमुख थीं। बरात के अंत में बल्केश्वर महादेव की झांकी के दर्शन सभी को सम्मोहित कर रहे थे। बरात का क्षेत्र में जगह जगह स्वागत किया गया। इसके बाद बल्केश्वर मंदिर में रात्रि 12 बजे और सुबह चार बजे आरती हुई। सुबह खप्पर पूजन के बाद प्रसाद वितरण हुआ। साथ ही पूरी रात जागरण में श्रद्धालु बाबा के भजनों पर झूमते रहे। इस दौरान फूल बंगला सभी के आकर्षण का केंद्र रहा। बल्केश्वर मंदिर के प्रमुख महंत सुनील नागर और कपिल नगर ने पूजा संपन्न करायी। इस दौरान पार्षक अमित ग्वाला, पार्षद हरिओम गोयल, भोलानाथ अग्रवाल, अरविंद गुप्ता, ब्रजमोहन अग्रवाल, बीके अग्रवाल, ताराचंद तोती भाई, कुंदनिका शर्मा, शंभू अग्रवाल, रमन अग्रवाल आदि मौजूद रहे।