आगरा, जागरण संवाददाता। फेसबुक पर प्यार का इकरार होने के बाद प्रेमिका ने शादी करने की ठान ली। प्रेमी से मिलने के लिए वह अयोध्या से आगरा दौड़ी चली आई। दोनो के प्यार का प्रेमी के स्वजन को पता चला तो गांव में पंचायत बैठ गई। युवती को गांव की बेटी की तरह मानते हुए उसके घर वालों की इसकी जानकारी दी गई। युवती के गायब होने पर उसकी तलाश में जुटे स्वजन को इसका पता चला तो वह भी आगरा पहुंच गए। मामला पुलिस के संज्ञान में भी लाया गया। प्रेमी और प्रेमिका के स्वजन के साथ गांव के जिम्मेदार लोगों की कई घंटे तक पंचायत चली। आखिरकार वह प्रेमिका को समझाकर घर लौटने के लिए मनाने में सफल रहे।

मामला सिकंदरा के रुनकता इलाके के एक गांव का है। यहां रहने वाले ट्रांसपोर्टर के बेटे ने तीन साल पहले फेसबुक पर अयोध्या की युवती को फ्रैंड रिक्वेस्ट भेजी थी। युवती ने इसे स्वीकार कर लिया। दोनों करीब एक साल तक एक दूसरे से फेसबुक के माध्यम से बातचीत करते रहे। इस दौरान युवती को फेसबुक दोस्त से प्यार हो गया। उसने युवक को प्रपोज किया, इसके बाद दोनों ने एक दूसरे का मोबाइल नंबर लेकर वाट्सएप पर चैटिंग शुरू कर दी। अयोध्या की रहने वाली प्रेमिका के पिता व्यापारी हैं। उनका परचूनी का काम हैं। प्रेमी से मिलने के लिए प्रेमिका ने घर से बगावत कर दी।

वह शनिवार की रात को उन्हें बिना बताए आगरा के लिए रवाना हो गई। अपने प्रेमी को भी इसके बारे में बता दिया। रविवार की सुबह वह सिकंदरा के रुनकता हाईवे पर पहुंचकर उसका इंतजार कर रही थी।उधर, प्रेमी ने इसकी जानकारी अपने परिवार और दोस्तों को दी। प्रेमी के स्वजन और दोस्त वहां पहुंचे, युवती को अपने साथ लेकर आ गए। उन्होंने इसकी जानकारी पुलिस को दे दी। प्रेमी के स्वजन ने गांव वालों से विचार करने के बाद उसे सकुशल घर पहुंचाने का फैसला किया। मगर, प्रेमिका घर लौटने के लिए तैयार नहीं थी।

इस पर प्रेमी के स्वजन ने युवती के परिवार से संपर्क किया। उन्हें बताया कि उनकी बेटी आगरा में सकुशल है। बेटी के घर से गायब होने के बाद परेशान स्वजन उसकी तलाश में जुटे थे। बेटी के आगरा में होने का पता चलने पर वह रविवार की देर शाम यहां पहुंच गए। उन्होंने बेटी को उसके भविष्य का हवाला देते हुए समझाया। प्रेमी के स्वजन और गांव वालों की भूमिका भी सकारात्मक रही। उनके और स्वजन के समझाने युवती पर युवती घर लौटने के लिए मान गई। चौकी प्रभारी रुनकता केशव शांडिल्य के अनुसार मामला पुलिस के संज्ञान में आया था। युवक-युवती दोनों बालिग थे। स्वजन के समझाने पर युवती उनके साथ घर लौट गई। मामले में किसी भी पक्ष द्वारा कोई शिकायत नहीं की गई है। 

Edited By: Tanu Gupta